लोकसभा चुनाव: नोएडा के मतदान केंद्र पर पीएम मोदी के नाम से ‘नमो’ फूड के पैकेट बांटे जाने को लेकर विवाद, पुलिस पर लगा बांटने का आरोप

0

दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र का सबसे बड़ा महापर्व गुरुवार (11 अप्रैल) से शुरू हो गया है। लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 20 राज्यों की 91 लोकसभा सीटों और चार राज्यों की विधानसभा सीटों पर गुरुवार सुबह सात बजे मतदान शुरू हो गया। 91 लोकसभा सीटों पर कुल 1279 उम्मीदवार मैदान में हैं। मतदान केंद्रो पर समय से पहले से ही लोगों की लाइन नजर आ रही थी। सुरक्षा के लिए पूरे चाक-चौबंद इंतजाम किए गए हैं। आंध्र प्रदेश, सिक्किम, ओडिशा और अरुणाचल प्रदेश में विधानसभा चुनावों के लिए भी गुरुवार को ही मतदान हो रहा है।

इस बीच नोएडा (गौतमबुद्ध नगर) के एक मतदान केंद्र पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम से ‘नमो’ फूड के पैकेट बांटे जाने को लेकर विवाद शुरू हो गया है। कथित तौर पर नोएडा में ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों पर पीएम मोदी के नाम से बने खाने के पैकेट बांटने का आरोप लगा है। बताया जा रहा है कि नोएडा सैक्टर 15 क्लब के बाहर ये फूड पैकेट बांटे गए। यह बीजेपी उम्मीदवार महेश शर्मा का पोलिंग बूथ है।

दरअसल, गुरुवार को सोशल मीडिया ऐसे कई वीडियो और फोटो सामने आए जिसमें कथित तौर पर पुलिस द्वारा मतदान के दौरान नोएडा के सेक्‍टर-15 ए के बूथ पर कर्मियों को जो खाने का पैकेट दिया जा रहा था, उस पर ‘नमो’ लिखा था। पत्रकारों द्वारा शेयर किए गए वीडियो में नोएडा पुलिस के गाड़ी में पीएम मोदी के नाम से भोजन का पैकेट देखा गया। हालांकि पत्रकारों को देखने के बाद पुलिस भोजन के पैकेट को लेकर चली गई। इसका वीडियो वायरल होने के बाद विवाद बढ़ गया है।

हालांकि, इस मामले में सफाई देते हुए नोएडा के एसएसपी ने इसे अफवाह बताया है। एसएसपी वैभव कृष्‍ण ने कहा कि इस तरह की कुछ खबरें फैलाई जा रही हैं कि कुछ पुलिसकर्मी एक राजनीतिक दल की तरफ से खाने के पैकेट बांट रहे हैं। यह बिल्‍कुल गलत है। स्‍थानीय स्‍तर पर खाने के कुछ पैकेट किसी राजनीतिक दल से नहीं बल्कि नमो फूड शॉप से पैक कराए गए थे।

उन्होंने कहा कि कुछ लोग गलत और राजनीति से प्रभावित अफवाह फैला रहे हैं। किसी एक जगह से खाने के पैकेट लेने का कोई आधिकारिक आदेश नही हैं। इस बीच मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यूपी के सीईओ एल वेंकटेश्वरलू ने नोएडा के डीएम से नूमो फूड पैकेट्स की रिपोर्ट मांगी है।

पहले चरण के मतदान में जिन प्रमुख नेताओं की राजनीतिक किस्मत ईवीएम में कैद हो जायेगी उनमें केन्द्रीय मंत्री जनरल (सेवानिवृत्त) वीके सिंह, नितिन गडकरी, हंसराज अहीर, किरण रिजीजू, कांग्रेस की रेणुका चौधरी, एआईएमआईएम के असदउद्दीन ओवैसी शामिल हैं।

इस चरण में रालोद प्रमुख अजीत सिंह का मुकाबला उत्तर प्रदेश में मुजफ्फरनगर सीट पर बीजेपी के संजीव बालियान से है जबकि उनके बेटे जयंत चौधरी बागपत सीट पर केन्द्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह को चुनौती दे रहे हैं। लोजपा प्रमुख एवं केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान के पुत्र एवं सांसद चिराग पासवान बिहार में जमुई सीट से उम्मीदवार हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here