नाहिद आफरीन के गाना गाने पर 46 मौलवियों ने जताया ऐतराज, मुख्यमंत्री ने दिया सुरक्षा का आश्वासन

0

सिंगिग रिएलिटी शो इंडियन आइडल जूनियर की रनर अप रह चुकी असम की 16 साल की सिंगर नाहिद आफरीन के खिलाफ 46 मौलानाओं ने ऐतराज जताया है। नाहिद आफरीन के खिलाफ कब्रिस्तान और मस्जिद के नजदीक प्रोग्राम आयोजित करने को लेकर मौलवियों में नाराज़गी थी। नाहिद 2015 में रियलिटी टीवी शो इंडियन आइडल जूनियर में फर्स्ट रनर-अप रही थीं।

नाहिद आफरीन

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, मंगलवार को मध्य असम के होजई और नागांव जिलों में ऐसे कई पर्चे बांटे गए जिसमें असमिया भाषा में नाराज़गी जाहिर करने वाले मौलवियों का नाम लिखा था।

पर्चे में लिखा था कि 25 मार्च को असम के लंका इलाके के उदाली सोनई बीबी कॉलेज में 16 साल की नाहिद को परफॉर्म करना है जो पूरी तरह से शरिया के खिलाफ है।

असम में सोंतीपुर की रहने वाली नाहिद ने असम के भातखांडे कला केंद्र से संगीत की शिक्षा ली है।

धर्म गुरुओं का कहना है कि नाहिद आफरीन के कार्यक्रम का स्थल मस्जिद और कब्रिस्तान के पास होने के कारण यह ऐतराज जताया गया है। जबकि इस आदेश के खिलाफ युवा गायिका नाहिद ने कहा, ‘मेरी आवाज ईश्वर का वरदान है, मेरा मानना है इसे ठीक से इस्तेमाल करना चाहिए, मैं इसमें ईश्वर को नजरअंदाज नहीं कर रही हूं।’ इस विवाद पर राज्य के मुख्यमंत्री ने नाहिद को सुरक्षा का आश्वासन दिया है ताकि वह बिना रोक-टोक के अपने कार्यक्रम आयोजित कर सकंे। इस बारें में असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने युवा गायिका को अपना आर्शीवाद दिया और कहा कि आप अच्छे से परफार्म करों।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here