मुजफ्फरपुर आश्रय गृह यौन शोषण कांड की जांच कर रही महिला SP हरप्रीत कौर का तबादला, तेजस्वी ने नीतीश पर साधा निशाना

0

बिहार के मुजफ्फरपुर के ‘बालिका गृह’ नाम के नारी निकेतन में 34 मासूम बच्चियों के साथ दरिंदगी मामले की जांच कर रहीं मुजफ्फरपुर की एसएसपी हरप्रीत कौर का तबादला कर दिया गया है। आपको बता दें कि हरप्रीत कौर बहुचर्चित शेल्टर होम केस में अहम भूमिका निभाई है। शेल्टर होम केस के मु्ख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को भी सलाखों के पीछे भेजने में हरप्रीत कौर की अहम भूमिका थी, ऐसे में उनके तबादले को लेकर सवाल उठने लगे हैं। आपको बता दें कि इस कांड में आश्रय गृह की अनेक लड़कियों का कथित रूप से बलात्कार और यौन शोषण हुआ था।

file photo

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री व राजद नेता तेजस्वी यादव ने हरप्रीत कौर का तबादला किए जाने को सरकार की चाल बताया है। उनका कहना है कि ऐसा शेल्टर होम के आरोपियों को बचाने के लिए किया गया है। तेजस्वी यादव ने इस मुद्दे पर एक के बाद एक ट्वीट कर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला है।

तेजस्वी ने ट्वीट किया, ‘मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में 34 लड़कियों के संस्थागत बलात्कार के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को जेल की सलाखों में डालने वाली मुजफ्फरपुर जिला की SP हरप्रीत कौर का नीतीश कुमार ने तबादला कर दिया है, क्योंकि नीतीश जी के दुलारे-प्यारे, लाडले ब्रजेश को जेल में हरप्रीत जी ने ही डाला था।

इसके अलावा तेजस्वी ने एक और ट्वीट किया, ‘नीतीश जी उस वक्त हरप्रीत कौर का तबादला नहीं कर सकते थे, क्योंकि सबकी नजर थी। ईमानदार अफ़सरों का नीतीश जी ने जीना मुहाल कर दिया है। जो RCP टैक्स नहीं देता उसे CM फुटबॉल बना देते हैं। सृजन घोटाले में भी ऐसे ही हुआ। नीतीश जी राजनीतिक, सामाजिक और नैतिक भ्रष्टाचार के भीष्म पितामह हैं।

एक अन्य ट्वीट में तेजस्वी ने लिखा है, “मुज़फ़्फ़रपुर SP हरप्रीत कौर का तबादला इसलिए किया क्योंकि ब्रजेश ठाकुर से जो सबूत बरामद किए उसे CM ने ठिकाने लगाना था? मंत्री पति के बात करने से मंत्री को बर्खास्त किया तो फिर उस मंत्री को क्यों नहीं? जबकि उस मंत्री ने स्वयं अनेकों बार ब्रजेश से बात की। वो “पटना वाला सर” कौन है?”

राजद नेता ने एक अन्य ट्वीट में लिखा है, “बलात्कार कांड के बाद पूर्व मेयर हत्याकांड में भी नीतीश जी के बड़े क़रीबी नेता का हाथ है। SP उस नेता तक पहुँचने वाली थी कि सुशासनी सरकार ने तबादला कर दिया। दरिंदे ब्रजेश ठाकुर के काले कारनामों के भागीदार सुशासनी लोग ईमानदार अफ़सरों को प्रताड़ित कर रहे है।”

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here