क्या ‘नवाब मुजफ्फर अली’ ने रखा था मुजफ्फरनगर का नाम? जानें, BJP विधायक के दावों की सच्चाई

0

इस वक्त देश में विशेष तौर पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) शासित राज्य उत्तर प्रदेश में शहरों, रेलवे स्टेशनों और सड़कों का नाम बदलने का दौर चल रहा है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहले ही मुगलसराय जंक्शन का नाम पं. दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन, इलाहाबाद का नाम प्रयागराज और फैजाबाद का नाम अयोध्या करने का ऐलान कर चुके हैं। इस बीच खबर है कि राज्य के ऐसे तमाम शहर हैं, जिनके नाम बदले जाएंगे और इन नामों में मुजफ्फरनगर और आगरा शहर का नाम भी जुट गया है।

(Subhankar Chakraborty/HT PHOTO)

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर से बीजेपी विधायक संगीत सोम ने कहा है कि राज्य में अभी और कई शहरों के नाम बदले जाएंगे। सोम ने कहा कि मुजफ्फरनगर का नाम बदलकर लक्ष्मी नगर किया जाएगा। समाचार एजेंसी ANI से बातचीत में सोम ने कहा, “अभी तो बहुत शहरों के नाम बदले जाने हैं। मुजफ्फरनगर का नाम बदला जाना है। मुजफ्फरनगर का नाम लक्ष्मीनगर लोगों की पहले से मांग है। मुजफ्फरनगर नाम एक नवाब मुजफ्फर अली ने किया था। लोगों की सदियों से डिमांड है कि इसका नाम मुजफ्फरनगर किया जाए।”

समाचार एजेंसी ANI से सोम ने आगे कहा, “मुगलों ने यहां की संस्कृति को मिटाने का काम किया है। खासतौर से हिंदुत्व को मिटाने का काम किया है। हम लोग उस संस्कृति को बचाने के लिए काम कर रहे हैं। बीजेपी उस पर आगे बढ़ेगी।” अब सवाल उठता है कि क्या वाकई मुजफ्फरनगर का नाम नवाब मुजफ्फर अली ने रखा था? हालांकि यूपी सरकार के रिकॉर्ड की मानें तो बीजेपी विधायक सोम का दावा गलत साबित होता दिख रहा है।

NDTV के मुताबिक, वर्ष 1990 में यूपी सरकार द्वारा प्रकाशित जिला राजपत्र में कहा गया है कि जिले का नाम मुख्यालय शहर मुजफ्फरनगर के नाम पर रखा गया है, जिसे मुगल सम्राट शाहजहां के शासनकाल के दौरान दारोत और सरवट नामक पुराने शहर की जगह स्थापित किया गया था।

इतिहास और राजस्व प्रमाणों के अनुसार दिल्ली के बादशाह शाहजहां ने सरवट नाम के परगना को अपने एक सरदार सैयद मुजफ़्फ़र खान को जागीर में दिया था। जहां पर 1633 में उसने और उसके बाद उसके बेटे मुनव्वर लश्कर खान ने मुजफ़्फ़र नगर नाम का यह शहर बसाया। बेटे मुनव्वर लश्कर खान ने अपने पिता के सपनो को पूरा किया। और इस शहर का नाम अपने पिता मुज़फ्फर खान के नाम पर रखा था। बाद में उन्होंने मुजफ़्फ़रनगर नाम का यह शहर बसाया।

आपको बता दें कि देशभर में राम मंदिर के मुद्दे पर छिड़ी बहस के बीच मंगलवार को अयोध्या में दीपोत्सव कार्यक्रम के दौरान फैजाबाद जिले का नाम बदलकर अयोध्या किए जाने की घोषणा की। इलाहाबाद का नाम बदल कर प्रयागराज करने के कुछ ही दिनों बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को घोषणा की कि फैजाबाद जिला अब से अयोध्या के नाम से जाना जाएगा। छोटी दिवाली पर भव्य दीपोत्सव कार्यक्रम के दौरान योगी ने अयोध्या को कई सौगातें दीं।

फैजाबाद से पहले ही यूपी की योगी सरकार कई स्थानों के नाम बदल चुकी है। इससे पहले इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज और मुगलसराय जंक्शन का नाम पं. दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन कर चुकी है। यूपी के अलावा अन्य राज्यों में भी नाम बदलने की कवायद शुरू हो गई है। बीजेपी शासित राज्य गुजरात में भी अहमदाबाद का नाम बदलने की कोशिशें तेज हो गई हैं। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी के नेतृत्व वाली गुजरात सरकार अहमदाबाद शहर के नाम को बदलने पर विचार कर रही है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here