गुरुग्राम: धर्मिक टोपी पहनने पर मुस्लिम युवक की पिटाई, जबरन लगवाए ‘जय श्री राम’ के नारे

0

देश की राजधानी दिल्ली से सटे हरियाणा के गुरुग्राम में पारंपरिक टोपी पहनने के लिये 25 वर्षीय मुस्लिम युवक की 5-6 अज्ञात लोगों ने कथित तौर पर पिटाई की। पीड़ित की पहचान मोहम्मद बरकर आलम के तौर पर हुई है। बिहार का रहने वाला आलम गुरुग्राम के जैकब पुरा इलाके में रहता है। एक अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी।

फोटो: ANI

समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस में दी गयी शिकायत में आलम ने आरोप लगाया कि सदर बाजार मार्ग पर चार अज्ञात लोगों ने उसे रोका और पारंपरिक टोपी पहनने पर आपत्ति जतायी। उसने बताया कि आरोपियों ने उसे धमकी दी और कहा कि इस इलाके में इस तरह की टोपी पहनने की इजाजत नहीं है। आलम ने अपनी प्राथमिकी में कहा, ‘‘उन्होंने मेरी टोपी हटा दी और मुझे थप्पड़ मारे साथ ही उन्होंने ‘भारत माता की जय’ का नारा लगाने को भी कहा।’’

उसने कहा, ‘‘मैंने उनके आदेश का पालन किया और ‘भारत माता की जय’ का नारा लगाया लेकिन उन्होंने मुझे ‘जय श्रीराम’ का उद्घोष करने के लिये कहा, जिसे करने से मैंने इनकार कर दिया। इस पर एक युवक ने सड़क किनारे पड़ी लाठी उठायी और बेरहमी से मुझे पीटना शुरू कर दिया। उन्होंने मेरे पैर और पीठ पर वार किया।’’ एसीपी ने कहा कि इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया गया है और इलाके के सीसीटीवी फुटेज खंगाल कर आरोपियों की पहचान की जा रही है। उन्हें पकड़ने के प्रयास जारी हैं।

इस घटना को लेकर पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के टिकट पर लोकसभा का चुनाव जीतने वाले पूर्व भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर ने निंदा की है।

उन्होंने सोमवार को ट्वीट कर कहा है कि गुरुग्राम में एक मुस्लिम युवक के साथ सर से पारंपरिक टोपी हटाने को कहा गया और जय श्रीराम बोलने के लिए दबाव डाला गया। यह घटना बहुत ही निंदनीय है। गंभीर ने कहा कि हम एक धर्मनिरपेक्ष राष्ट्र में रहते हैं, जहां जावेद अख्तर ने “ओ पालन हारे, निर्गुण और नयारे” जैसे भजन को लिखा है। साथ ही बीजेपी नेता ने गुरुग्राम पुलिस से आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here