मध्य प्रदेश: गौहत्या के शक में मुस्लिम शख्स की पीट-पीटकर हत्या, 4 आरोपी गिरफ्तार, इलाके में तनाव

0

कथित गोरक्षकों के भेष में हिंदुत्व आतंकियों का उत्पात थमने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा मामला मध्य प्रदेश का है जहां गौहत्या के आरोप में एक मुस्लिम व्यक्ति को पीट-पीटकर मौत के घाट उतारने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक दो मुस्लिम शख्स मवेशियों के साथ अपने गांव लौट रहे थे। इसी दौरान कुछ ग्रामीणों ने दोनों को देखा और गांव में गौहत्या की सूचना दे दी। जिसके बाद मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने दोनों की बुरी तरह पिटाई कर दी, जिसमें से एक की मौत हो गई है।

PHOTO: NDTV

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, सतना जिले के अंगार गांव के जंगल में 45 वर्षीय एक मुस्लिम व्यक्ति को लाठी-डंडों से कथित रूप से पीट पीटकर मार डाला और उसके साथी को घायल कर दिया। मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उनसे पूछताछ की जा रही है। घटना के बाद इलाके में तनाव है। मामला शुक्रवार का बताया जा रहा है। यह मामला अमगरा गांव का है। पेशे से दर्जी रियाज खान (45) और शकील (38) पर गाय को मारने का शक था। जिसके बाद दोनों पर भीड़ ने लाठी-डंडों से पीट दिया। इससे रियाज और शकील गंभीर रूप से जख्मी हो गए।

अस्पताल में इलाज के दौरान रियाज की मौत हो गई, जबकि मृतक का साथी फिलहाल कोमा में है। पुलिस के मुताबिक रियाज और शकील मवेशियों के साथ कैमोर से अपने गांव लौट रहे थे। इसी दौरान कुछ ग्रामीणों ने दोनों को अमगरा गांव के नजदीक खदान के पास मवेशियों के साथ देखा और गांव में गौहत्या की खबर फैला दी। इसके बाद मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने रियाज खान और शकील की पिटाई शुरू कर दी। बुरी तरह पिटाई करने के बाद ग्रामीण दोनों को मौके पर छोड़कर फरार हो गए।

जिसके बाद रात करीब 3 बजे किसी ने डायल 100 को सूचना दी। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को लेकर मैहर अस्पताल पहुंची। अस्पताल पहुंचने से पहले रियाज की मौत हो चुकी थी। आईजी पुलिस रीवा रेंज, उमेश जोगा ने बताया कि इलाके में तनाव है। स्थिति को देखते हुए करीब 400 पुलिसकर्मियों को ड्यूटी पर तैनात किया गया है। उन्होंने बताया कि चार आरोपियों के खिलाफ हत्या की कोशिश का मामला दर्ज किया गया है।

एनडीटीवी की खबर के मुताबिक, पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक घटनास्थल के पास एक पैकेट के अंदर से भैंस का मांस हुआ है। पुलिस अधिकारी ने बताया है कि चारों आरोपियों के नाम पवन सिंह गौड़, विनय सिंह गौड़, फूल सिंह गौड़ और नारायण सिंह गौड़ हैं। घायल शकील इस समय कोमा में है और इलाज जबलपुर के अस्पताल में चल रहा है। पुलिस ने उसके खिलाफ भी गोहत्या का मामला दर्ज किया है। मृतक रियाज और शकील के परिजनों ने गोकशी से इनकार किया है। हालांकि पुलिस ने पवन सिंह गोंड की शिकायत पर मध्य प्रदेश गोवंश वध प्रतिषेध अधिनियम 2004 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। ​

अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स के अनुसार, आरोपियों ने दो लोगों को मारने से इनकार किया है। पुलिस ने पवन की शिकायत पर शकील और रियाज के खिलाफ मध्य प्रदेश गोहत्या पाबंदी अधिनियम 2004 और मध्य प्रदेश कृषि मवेशी संरक्षण अधिनियम 1959 की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। मैहर क्षेत्र के सब डिविजनल अधिकारी अरविंद तिवारी ने कहा कि उन्हें घटना से ‘बीफ’ के टुकड़े मिले हैं।

उधर, शकील और रियाज के परिजनों ने गोहत्या के आरोपों से इनकार किया है। पुलिस अधिकारी राजेश हिंगणकर ने कहा, ‘शकील टैक्सी ड्राइवर है। उसके जब अस्पताल से डिस्चार्ज किया जाएगा, तो उसकी गिरफ्तारी होगी। मध्य प्रदेश ने साल 2012 में गोहत्या अधिनियम में बदलाव कर 3 साल की अधिकतम सजा को 7 साल को बढ़ाया था।’ फिलहाल मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है और केस दर्ज कर पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here