मॉब लिंचिंग: कांग्रेस शासित राजस्थान में मुस्लिम हेड कांस्टेबल की पीट-पीटकर हत्या

0

राजस्थान में मॉब लिंचिंग का एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। कांग्रेस शासित राजस्थान के राजसमंद जिले में राज्य पुलिस के एक मुस्लिम हेड कांस्टेबल की शनिवार को कुछ लोगों ने पीट-पीट कर हत्या कर दी। भीलवाड़ा के जहाजपुर इलाके के रहने वाले 48 वर्षीय अब्दुल गनी राजसमंद के भीम पुलिस स्टेशन में तैनात थे।

पुलिस अधीक्षक भुवन भूषण ने बताया कि भीम थाने में तैनात हेड कांस्टेबल अब्दुल गनी एक मामले की जांच के लिए हमेला की बेर गांव गए थे। उन्होंने कहा, “वह बाइक से लौट रहे थे तो चार-पांच अज्ञात लोगों ने लाठियों से उन पर हमला कर दिया।’’ उन्हें पास के एक अस्पताल ले जाया गया जहां उनकी मौत हो गई। पुलिस अधीक्षक के अनुसार इस प्रकरण में शामिल लोगों की पहचान करने की कोशिश की जा रही है।

जानकारी के मुताबिक गनी मोहम्मद मामले की तफ्तीश करने गांव में गए थे। इस दौरान मामले में लिप्त आरोपियों ने 48 वर्षीय कांस्टेबल की पिटाई शुरू कर दी। बताया जा रहा है कि पूरे वाकए के दौरान ग्रामीण मूक-दर्शक बने रहे। बाद में कुछ ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

जानकारी के मुताबिक, अब्दुल गनी फरवरी 1995 में राजस्थान पुलिस की सेवा से जुड़े थे। उन्होंने राजसमंद के कुंवारिया, आमेट, देवगढ़, राजसमंद एवं भीम पुलिस थाना क्षेत्र में सेवाएं दी। जानकारी के मुताबिक हेड कांस्टेबल के परिवार में चार पुत्रियां और एक पुत्र हैं।

आपको बता दें कि राजस्थान के अलवर में अप्रैल 2017 में 55 साल के पहलू खान की कथित गोरक्षकों की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। हाल के दिनों में गोरक्षा के नाम पर देश के कई हिस्सों में मुस्लिम समुदाय को निशाना बनाए जाने की घटना सामने आई है। झूठी अफवाहों के चलते भीड़ ने मुस्लिम समुदाय के कई लोगों को मौत के घाट उतारा है।

हाल ही में झारखंड के सरायकेला खरसावां में तबरेज अंसारी नाम के एक युवक पर चोरी का आरोप लगाकर ग्रामीणों द्वारा बेरहमी से पिटाई की गई, जिसके बाद अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। घटना की एक वीडियो के मुताबिक, कुछ लोग तबरेज से जबरदस्ती ‘जय श्री राम’ के नारे लगवा रहे हैं। यह खबर भारत सहित पूरे विश्व भर में सुर्खियों में रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here