झारखंड में एक और मॉब लिंचिंग: जादू-टोना के शक में मां-बेटी को पीट-पीटकर मार डाला, पिता-पुत्र ने भागकर बचाई जान

0

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शासित झारखंड में 24 वर्षीय तबरेज़ अंसारी की भीड़ द्वारा क्रूरता से की गई हत्या का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ की अब राज्य में एक ओर मॉब लिंचिंग का मामला सामने आया है।

झारखंड
फाइल फोटो: सोशल मीडिया

झारखंड के पश्चिम सिंघभूम जिले में जादू-टोना करने के आरोप में एक महिला और उसकी बेटी को पहले तो बुरी तरह पीटा गया और इसके बाद उन्हें मार डाला गया। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी। समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक, यह घटना नक्सल प्रभावित रोवाओली गांव में गुरुवार रात को हुई। पुलिस के अनुसार, घटना के दौरान महिला का पति सुभाष खंडैत और बेटा भागने में सफल रहे। उन्होंने शुक्रवार को मामला दर्ज कराया।

खंडैत ने शिकायत में लिखा कि सोमवार को उनके घर में एक पूजा आयोजित हुई थी जिसमें उनके पड़ोसी रामबिलास की पत्नी शामिल हुई थीं। पूजा के बाद वह बीमार हो गई। इसके बाद रामबिलास के परिजनों ने खंडैत की पत्नी और बेटी पर हमला कर दिया। पश्चिम सिंघभूम के पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) आनंद मोहन ने मीडिया को बताया, “प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। हम मामले की जांच कर रहे हैं।”

स्थानिय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, घर के दो लोगों की हत्या के बाद सुभाष और उसके परिजन इतने डरे हुए हैं कि लौटकर घर जाना नहीं चाहते। हमलावरों ने उनके पूरे परिवार को खत्म करने का धमकी दी है। वे पत्नी और बेटी का अंतिम संस्कार भी अपने रिश्तेदार के गांव में ही करेंगे। वहीं, इस वारदात के बाद गांव में दहशत का माहौल बना हुआ है।

बता दें कि, झारखंड के सरायकेला-खरसावां जिला में तबरेज अंसारी की भीड़ द्वारा किए हत्याकांड मामले में अभी तक 11 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है, जबकि दो पुलिस अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है। तबरेज अंसारी (22) की 17 जून को बाइक चोरी करने के संदेह में जिले के धतकीडीह गांव में भीड़ द्वारा बर्बरतापूर्वक पिटाई करने के कुछ दिनों बाद 22 जून को एक अस्पताल में मौत हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here