उत्तर प्रदेश: भदोही में बलात्कार के बाद 17 वर्षीय लड़की की हत्या, पहचान छिपाने के लिए शव को तेजाब से जलाया

0

कोरोना महामारी के बीच भी उत्तर प्रदेश में अपराध लगातार बढ़ते जा रहे है और साथ ही राज्य में पुलिस कार्यशैली पर सवाल उठाए जा रहे है। वहीं, दूसरी ओर राज्य में बलात्कार व हत्या की घटनाएं कम होने का नाम ही नहीं ले रहीं है, जिसका ताजा मामला एक बार फिर से देखने को मिला है। यूपी के भदोही जिले के एक गांव में किशोरी का अपहरण कर कथित तौर पर उसके साथ बलात्कार किया गया और फिर हत्या कर पहचान छिपाने के मकसद से शव को तेजाब से जला दिया गया।

उत्तर प्रदेश

समाचार एजेंसी पीटीआई (भाषा) की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस सूत्रों ने बताया कि कोतवाली इलाके के धौरहरा स्थित एक गांव की रहने वाली 17 वर्षीय लड़की सोमवार को मवेशी चराने गयी थी। देर शाम तक नहीं लौटने पर उसकी तलाश शुरू की गयी। उसका शव बुधवार दोपहर वरुणा नदी में पाया गया। शव का ऊपरी आधा हिस्सा तेजाब से जलाया गया था। परिजन ने लड़की की जीन्स देखकर उसकी पहचान की।

लड़की के परिजन का आरोप है कि उन्होंने उसकी बलात्कार के बाद हत्या किए जाने की आशंका जताई थी, मगर इसके बावजूद पुलिस ने घोर लापरवाही बरती। हालांकि, पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह का कहना है कि इस मामले में सोमवार को अज्ञात लोगों के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

शव मिलने के बाद नाराज लोगों की भीड़ ने भदोही-जौनपुर मार्ग पर रास्ता जाम करके आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की। काफी समझाने-बुझाने के बाद लोग पोस्टमार्टम के लिए शव देने को राजी हुए। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि प्रारंभिक जांच में पता चला है कि लड़की की गला दबाकर हत्या की गई है और शव की पहचान छुपाने के लिए उसे तेजाब से जलाया गया है।

उन्होंने बताया कि लड़की के पिता ने एक ईंट भट्ठा मालिक समेत कुछ लोगों पर बलात्कार की आशंका जताई है। पुलिस मामला दर्ज कर छानबीन कर रही है और वारदात को अंजाम देने वालों को पकड़ने का प्रयास किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here