मुस्लिम बहुल इलाके में मुंबई BJP अध्यक्ष का विवादित बयान, कांग्रेस के मतदाताओं को बताया दंगाई और बम फोड़ने वाला

0

महाराष्ट्र में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए अब ज्यादा दिन नहीं बचे हैं। चुनाव के मद्देनजर सभी राजनीतिक पार्टियां अपनी एड़ी-चोटी का जोर लगाकर जनता का विश्वास जीतने में लगी है। इस बीच, महाराष्ट्र में चुनाव प्रचार के दौरान मुंबई ईकाई के भाजपा अध्यक्ष मंगल प्रभात लोढ़ा ने कांग्रेस प्रत्याशी और मौजूदा विधायक अमीन पटेल व उन्हें वोट देने वाले मतदाताओं के खिलाफ विवादित बयान दिया है।

मंगल प्रभात लोढ़ा
फाइल फोटो: मंगल प्रभात लोढ़ा

बुधवार को मुम्बा देवी में एक सभा को संबोधित करते मंगल प्रभात लोढ़ा ने कांग्रेस मतदाताओं को दंगाई और बम फोड़ने वाला बता दिया। उन्होंने मुबंई में आंतकी हमलों और दंगों का उदाहरण देते हुए यह दावा किया कि बम और गोलियों का निर्माण पांच किलोमीटर के दायरे में किया गया था। लोढ़ा निर्वाचन क्षेत्र में शिवसेना उम्मीदवार पांडुरंग सकपाल के लिए एक रैली में हिस्सा लेने के पहुंचे थे। बता दें कि, इस क्षेत्र की एक बड़ी आबादी मुस्लिम है।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, रैली को संबोधित करते हुए लोढ़ा ने कहा, ‘आप ये भी याद रखिए कि 1992 के बाद इस मुंबई में कितने बम ब्लास्ट हुए। कितनी गोलियां चलीं, कितने बम के धमाके हुए, ये सारा उद्योगस्थान कहां पर है? ये सारा उद्योगस्थान यहां के आपके पांच किलोमीटर की गलियों के अंदर है और उनके वोटों के उनका साथ लेकर, जो व्यक्ति चुनके आएगा वो आपका आने वाले समय में क्या ध्यान रखेगा।’ इस रैली में शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे भी शामिल हुए थे, जो लोढ़ा के भाषण के बाद कार्यक्रम में पहुंचे।

उल्लेखनीय है कि, भाजपा नेता लोढ़ा ने अपने भाषण के दौरान किसी कॉलोनी का नाम नहीं लिया। हालांकि, आसपास के इलाकों में डोंगरी और नागापाड़ा एक बड़ी मुस्लिम आबादी रहती है। लोढ़ा ने कहा कि चूंकि केंद्र, राज्य और नगर निगम में शिवसेना-भाजपा गठबंधन की सरकारें हैं इसलिए मतदाताओं को मुंबई को सुरक्षित रखने के लिए गठबंधन को वोट देना चाहिए। उन्होंने कहा कि “अगर आप अमीन पटेल को वोट देते हैं, तो यह आप और हम पर बोझ होगा, जिसके लिए हम खुद को माफ नहीं कर पाएंगे।” उन्होंने कहा, ‘बीच के अंदर ये जो झण्डा लहराएगा, तो हमारे लिए कैसे स्वीकार्य होगा।’

अपने भाषण के दौरान लोढ़ा ने यह भी आरोप लगाया कि पटेल सिर्फ एक विशेष समुदाय का ध्यान रखेंगे। उन्होंने कहा, ‘अब तो नगाड़ा बज ही चुका है, सरहद पर शैतान का, तो नक्शे पर से नाम मिटा तो पापी पाकिस्तान का।’

वहीं, द इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए भाजपा-शिवसेना उम्मीदवार पांडुरंग सकपाल ने कहा कि लोढ़ा की टिप्पणी उनकी व्यक्तिगत विचारों और अनुभवों पर आधारित हो सकती है। उन्होंने कहा, ‘मैं व्यक्तिगत रूप से किसी भी समुदाय के बीच भेदभाव नहीं करता हूं। मैं सभी मतदाताओं के लिए काम करता हूं और आगे भी करता रहूंगा। मैंने कभी भी हिंदू-मुस्लिमों क्षेत्रों के बीच विभाजन नहीं किया और सभी क्षेत्रों से अच्छी प्रतिक्रियाएं मिलती रही हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here