अच्छी खबर: हर साल 77 हजार बुजुर्गों को मुफ्त में तीर्थ यात्रा कराएगी केजरीवाल सरकार, मुख्यमंत्री ने योजना को दी मंजूरी

0

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार एक्शन मोड में है। दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने हजारों बुजुर्गों को एक शानदार तोहफा दिया है। जी हां, आम आदमी पार्टी (AAP) सरकार अब हर साल 77 हजार वरिष्ठ नागरिकों (60 साल से अधिक आयु के) को मुफ्त में तीर्थयात्रा की सुविधा देगी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के वरिष्ठ नागरिकों के लिए ‘मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना’ को मंजूरी दे दी है। राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत ने एक प्रेस कांफ्रेंस में इसकी घोषणा की।

@AamAadmiParty

राजस्व मंत्री ने कहा कि दिल्ली कैबिनेट ने इस स्कीम को 8 जनवरी, 2018 को ही मंजूरी दे दी थी। लेकिन उप-राज्यपाल महोदय की तरफ से इस पर कुछ ऑब्जेशन लगा दिए गए थे, इस वजह से इसे अब तक लागू नहीं किया जा सका था। मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के तहत हर विधानसभा से हर साल 1100 यात्रियों को विभिन्न तीर्थों की यात्रा करवाई जाएगी। इसका पूरा खर्च दिल्ली सरकार उठाएगी। इस तरह हर साल दिल्ली सरकार दिल्ली के 77,000 वरिष्ठ नागरिकों को मुफ्त में विभिन्न तीर्थों का भ्रमण कराने जा रही है।

‘मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना’ के तहत इन यात्राओं को कराया जाएगा। केजरीवाल सरकार यात्रा के पात्र नागरिकों के लिए यात्रा, ठहरने और खाने का बंदोबस्त करेगी। हर तीर्थयात्री पर लगभग सात हजार रुपये खर्च आएगा। वरिष्ठ नागरिक अपने साथ 18 साल से अधिक आयु का कोई परिचारक रख सकेंगे। इसका खर्च भी दिल्ली सरकार वहन करेगी। इसके तहत 3 दिन और 2 रात की यात्रा कराई जाएगी। शुरुआत में अभी पांच रूट तय किए गए हैं।

ये हैं पांच रूट

  1. मथुरा-वृंदावन

2. हरिद्वार-ऋषिकेश-नीलकंठ

3. पुष्कर-अजमेर

4. अमृतसर-बाघा-आनंदपुर साहिब

5. वैष्णो देवी-जम्मू

योजना का लाभ पाने के लिए जरूरी बातें

1. दिल्ली का नागरिक होना चाहिए।

2. आयु 60 साल से अधिक होनी चाहिए।

3. योजना के लिए चयनित वरिष्ठ नागरिक अपने साथ 18 साल से अधिक उम्र का एक सहयोगी भी साथ ले जा सकेंगे जिसका भी पूरा खर्च सरकार उठाएगी।

4. सरकारी अधिकारियों/कर्मचारियों को इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।

5. इस योजना का लाभ उठाने वाले व्यक्ति को सेल्फ सर्टिफिकेशन से बताना होगा कि उसने सभी सही सूचनाएं दी हैं और उसने पहले इस योजना का लाभ नहीं उठाया है।

6. तीर्थ यात्रा के चयनित व्यक्तियों का 1 लाख रुपये का बीमा होगा।

7. एसी बसों से तीर्थ यात्रा करवाई जाएगी। खाने-नाश्ते की व्यवस्था भी सरकार की तरफ से की जाएगी।

8. सभी आवेदन पत्र ऑनलाइन भरे जाएंगे। आवेदन पत्र डिविजनल कमिश्नर ऑफिस, संबंधित विधायक के ऑफिस या तीर्थ यात्रा कमेटी के ऑफिस से भरे जाएंगे।

9. लॉटरी ड्रॉ से लाभार्थियों का चयन किया जाएगा।

10. संबंधित विधायक सर्टिफाई करेंगे कि व्यक्ति दिल्ली का नागरिक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here