मुकेश अंबानी ने खरीदी विश्व की सबसे पुरानी ब्रिटेन की खिलौना कंपनी हैमलेज, 18 देशों में फैला है कारोबार

0

भारत के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबनी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज की अनुषंगी रिलायंस ब्रांड्स लि. ने ब्रिटेन की खिलौना कंपनी हैमलेज ग्लोबल होल्डिंग्स लि. का अधिग्रहण करने की घोषणा की है। यह ब्रिटेन के खिलाफ ब्रांड हैमलेज की मालिक कंपनी है। हालांकि, सौदे की राशि का खुलासा नहीं किया गया है। इस सौदे के बाद पेट्रोलियम, रीटेल से लेकर टेलिकॉम सेक्टर तक में सफल कारोबार के बाद अब भारत के सबसे बड़े उद्योगपति मुकेश अंबानी खिलौना कारोबार के भी बड़े खिलाड़ी बन जाएंगे। रिलायंस ब्रैंड्स, हैमलेज ग्लोबल होल्डिंग्स लिमिटेड की 100 प्रतिशत हिस्सेदारी लेगी।

हैमलेज का स्वामित्व हांगकांग में सूचीबफ् सी बैनर इंटरनेशनल होल्डिंग्स के पास हैं। इसके 18 देशों में 167 स्टोर हैं। भारत में रिलायंस हैमलेज की मास्टर फ्रेंचाइज है और फिलहाल 29 शहरों में 88 स्टोरों का परिचालन करती है। रिलायंस ब्रांड्स ने बयान में कहा कि रिलायंस समूह की कंपनी और सी बैनर इंटरनेशनल होल्डिंग्स ने गुरुवार को इस बारे में पक्का करार किया। इसके तहत रिलायंस ब्रांड्स द्वारा हैमलेज ग्लोबल होल्डिंग्स के 100 प्रतिशत शेयरों का अधिग्रहण किया जाएगा। कंपनी ने कहा कि इस अधिग्रहण से रिलायंस ब्रांड्स वैश्विक खुदरा खिलौना उद्योग में एक प्रमुख खिलाड़ी बन सकेगी।

बीबीसी के मुताबिक, हैम्लेज कंपनी का स्थापना 259 साल पहले साल 1760 में हुई थी, जो कि विश्व की सबसे पुरानी और सबसे बड़ी खिलौनों की शॉप है। कंपनी ने थिएटर और मनोरंजन के साथ अपने रिटेल नेटवर्क का विस्तार किया है।हैमलेज ने अपना प्रमुख स्टोर रीजेंट स्ट्रीट लंदन में 1881 में खोला था। ये प्रमुख स्टोर सात मंजिलों में फैला है और 54,000 वर्ग फीट से अधिक के एरिया में ग्राहकों को सेवाएं प्रदान कर रहा है। इस स्टोर में खिलौनों की 50 हजार से अधिक लाइंस बिक्री के लिए उपलब्ध हैं।

बीबीसी के मुताबिक, रिलायंस ब्रैंड्स के चेयरमैन और सीईओ दर्शन मेहता ने कहा कि वैश्विक स्तर पर प्रसिद्ध हैमलेज ब्रैंड और कारोबार के अधिग्रहण से रिलायंस वैश्विक खुदरा खिलौना उद्योग में एक प्रमुख खिलाड़ी बन सकेगी। उन्होंने कहा कि व्यक्तिगत रूप से यह मेरे लिए एक सपने के पूरे होने जैसा है। मेहता ने कहा कि पिछले कुछ साल के दौरान हमने भारत में हैमलेज ब्रैंड के तहत एक उल्लेखनीय और मुनाफे वाला खिलौने का खुदरा कारोबार बनाया है।

उन्होंने कहा कि ढाई सौ साल पुरानी इस ब्रिटिश खिलौना रिटेलर ने खुदरा की अवधारणा को आगे बढ़ाया था जबकि उसके दशकों के बाद ही परंपरागत स्टोर या दुकानें लोकप्रिय हुईं। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि रिलायंस ब्रैंड्स लिमिटेड ब्रिटेन के खिलौना ब्रैड हैमलेज ग्लोबल होल्डिंग्स लिमिटेड का 6.79 करोड़ पाउंड यानी करीब 620 करोड़ रुपये में अधिग्रहण करेगी, हालांकि इसकी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here