मध्य प्रदेश में सियासी उठापटक जारी: कांग्रेस के 17 विधायक बेंगलुरु पहुंचे, सीएम कमलनाथ बोले- ‘BJP से अब रहा नहीं जा रहा’

0

मध्य प्रदेश की राजनीति में चल रहे सियासी उथल-पुथल के बीच राज्य के आधा दर्जन मंत्रियों समेत कांग्रेस के 17 विधायकों भाजपा शासित राज्य कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरू पहुंचे हैं, इससे कमलनाथ सरकार पर संकट गहरा गया है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो ये सभी कांग्रेस के असंतुष्ट नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे के हैं। इसके साथ ही कमलनाथ सरकार पर अविश्वास प्रस्ताव का संकट गहराने लगा है।

कमल नाथ
फाइल फोटो: कमल नाथ

मध्य प्रदेश में जारी सियासी घटनाक्रम के बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया सहित उनके 27 समर्थक विधायकों के मोबाइल फोन अचानक बंद होने के बाद बुलाई गई प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक में मौजूद करीब 20 मंत्रियों ने मुख्यमंत्री कमलनाथ के प्रति आस्था जताते हुए सोमवार देर रात को अपना इस्तीफा सौंप दिया। मुख्यमंत्री कमलनाथ की बैठक में 28 में से क़रीब 20 मंत्री पहुंचे थे और इन सभी मंत्रियों ने कमलनाथ को सामूहिक इस्तीफ़ा सौंपा।

बदलते राजनीतिक घटनाक्रम के बीच भाजपा राज्य में विधायक दल का नेता बदलने जा रही है। संभावना है कि पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान विधायक दल के नेता होंगे। राज्यपाल लालजी टंडन अपने पांच दिवसीय अवकाश के पूरा होने से पहले ही मंगलवार को भोपाल लौट रहे हैं। उधर कांग्रेस की कर्नाटक इकाई हाईकमान और संगठन मामलों के महासचिव केसी वेणुगोपाल की इस अनुमति की प्रतीक्षा कर रही है कि जिन ठिकानों पर पार्टी के विधायकों को रखा गया है वहां हंगामा किया जाए। कई दिनों से लड़खड़ा रही बाहरी समर्थन से चल रही कमलनाथ सरकार सोमवार को दिन में तब संकट में आ गई, जब सिंधिया के करीबी पुरुषोत्तम पाराशर आधा दर्जन मंत्रियों समेत 17 विधायकों को दिल्ली के रास्ते विशेष विमान से बेंगलुरू ले आए।

वहीं, मीडिया से बात करते हुए मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ ने कहा है कि बीजेपी से अब रहा नहीं जा रहा है। कमलनाथ ने कहा, ‘उन्होंने 15 साल में जो भ्रष्टाचार किया, वह सामने आने जा रहा है। इसलिए वे बेचैन हो रहे हैं।’ कमलनाथ ने सोमवार को ही कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की थी और कहा था कि वह उनकी दी हुई सलाह मानेंगे।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबक कर्नाटक भाजपा के नेता चार्टर्ड प्लेन से मध्य प्रदेश के कांग्रेस विधायकों को लेकर बेंगलुरु के वाइटफील्ड में आदर्श होटल पहुंचे हैं। जानकारी के मुताबिक सरकार में मंत्री तुलसी सिलावट, गोविंद सिंह राजपूत, प्रद्युम्न सिंह तोमर, इमरती देवी, प्रभुराम चोधरी और महेंद्र सिसोदिया बेंगलुरु पहुंचे हैं। वहीं, इनके अलावा विधायक मुन्ना लाल गोयल, गिरिराज दंडोतिया, ओपी भदौरिया, विरजेंद्र यादव, जसपाल जजजी, कमलेश जाटव, राजवर्धन सिंह, रघुराज कंसना, सुरेश धाकड़, हरदीप डंग और रक्षा सिरोनिया जसवंत भी बेंगलुरु पहुंचे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here