दिल्‍ली: मां ने 7 महीने की दुधमुंही बेटी को मनहूस मानकर मार डाला, गिरफ्तार

0

देश की राजधानी दिल्ली में 7 महीने की मासूम बच्ची की हत्या का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। चौंकाने वाली बात यह है कि दुधमुंही बच्ची की हत्या का आरोप किसी और पर नहीं बल्कि मां पर ही लगा है। दिल्ली पुलिस ने शनिवार (1 सितंबर) को अपनी ही 7 महीने की बेटी की हत्या करने के आरोप में 27 साल की अदीबा को गिरफ्तार किया है, आरोप है कि उसने 7 महीने की बेटी को मनहूस समझकर उसकी हत्या कर दी।

प्रतीकात्मक तस्वीर

गिरफ्तार अदीबा की डेढ़ साल पहले इसरार नाम के शख्स के साथ शादी हुई थी। ये लोग दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके के रहने वाले हैं। दक्षिणी पूर्वी दिल्ली के डीसीपी चिन्मय बिस्वाल ने बताया कि 20 अगस्त को दिल्ली के मूलचंद अस्पताल से जानकारी मिली कि एक महिला एक 7 महीने की बच्ची को मृत लेकर आई है। पुलिस जब अस्पताल पहुंची तो बच्ची की मां ने बताया कि उसकी मौत पानी की बाल्टी में डूबने से हुई है।

जिसके बाद पुलिस ने बच्ची के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से खुलासा हुआ कि बच्ची की गला घोंटकर हत्या हुई है। बच्ची के शरीर के अंदर पानी नहीं मिला। आरोपी मां से सख्ती से पूछताछ की गई तो हत्या पर से पर्दा उठ गया। अदीबा ने बताया कि जब से बेटी हुई थी तब से कुछ न कुछ गड़बड़ हो रहा था, कुछ आर्थिक नुकसान भी हुआ। अदीबा खुद को बीमार भी समझने लगी थी। उसे लगा कि ये सब बच्ची की वजह से हो रहा है और वो मनहूस है।

पुलिस के मुताबिक, आरोपी मां ने 20 अगस्त को अपने दुपट्टे से पहले सात साल की अपनी ही मासूम बच्ची का गला घोंटा और फिर उसे पानी से भरी बाल्टी में डाल दिया। हत्या को हादसे का रूप देने के लिए आरोपी ने शव बाथरूम में पानी से भरे टब में डाल दिया और परिजनों को उसके डूबने की बात बताई।

उसके बाद अपने पति इसरार को बताया कि पानी में डूबने से बच्ची की मौत हो गई है। आरोपी अदीबा की ये बच्ची पहली संतान थी। पेशे से दर्जी इसरार की शादी अदीबा से डेढ़ साल पहले ही हुई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या की पुष्टि होने और अपराध कबूल लेने के बाद पुलिस ने अदीबा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here