कानपुर: छेड़खानी से परेशान मां-बेटी चलती ट्रेन से कूदीं

0

उत्तर प्रदेश के कानपुर से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। कथित रूप से शोहदों द्वारा छेड़छाड़ से परेशान होकर मां और बेटी चलती ट्रेन से कूद गईं। ट्रेन की रफ्तार तेज होने के कारण मां और बेटी दोनों को गंभीर चोटें आई हैं। फिलहाल दोनों का इलाज चल रहा है। बताया जा रहा है कि जैसे ही ट्रेन हावड़ा से खुली कुछ लड़कों ने मां-बेटी के साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी। काफी देर तक छेड़खानी से तंग आकर मां-बेटी कानपुर के चदरी रेलवे स्टेशन के पास चलती हुई ट्रेन से कूद गईं।

हिंदुस्तान में छपी रिपोर्ट के मुताबिक यह घटना शनिवार (12 नवंबर) देर रात है, जबकि आबरू बचाने के लिए मां-बेटी ने चलती ट्रेन से छलांग लगा दी। जिसके बाद हावड़ा से नई दिल्ली जा रही मां-बेटी लहूलुहान हालत में चंदारी स्टेशन पहुंचीं। वहां लोगों ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। चकेरी पुलिस ने दोनों को निजी अस्पताल पहुंचाया।

Also Read:  टी सी ए अनन्त ने माना कि GDP आंकड़े सही नहीं

यहां से सुबह दोनों को हैलट लाया गया। घटना की सूचना मिलते ही जीआरपी में हड़कंप मच गया। महिला सिपाही संग जीआरपी पुलिस भी हैलट पहुंच गई। पूछताछ के बाद जीआरपीकर्मी दोनों को अपने साथ ले गए। रेलवे पुलिस ने महिला की शिकायत दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

रिपोर्ट के मुताबिक नई दिल्ली निवासी एक महिला अपनी 14 वर्षीय बेटी संग बीमार मां को देखने कोलकाता के ओलसोना स्थित मायके गई थी। गुरुवार को मां की मौत हो गई। इसके बाद मां-बेटी शुक्रवार रात 8 बजे चचेरे भाई नजरू संग हावड़ा से आनंद विहार जा रही डुप्लीकेट कालका एक्सप्रेस (12323) के जनरल कोच में सवार हुईं।

घायल महिला के मुताबिक, ट्रेन में सवार चार लड़कों ने शनिवार दोपहर बाद बेटी से छेड़छाड़ शुरू कर दी। मुगलसराय में शिकायत के बाद जीआरपी पहुंची और आरोपियों को उतारा, लेकिन शहोदे ट्रेन चलते ही फिर सवार हो गए। इलाहाबाद में ट्रेन रुकते ही महिला ने जीआरपी में शिकायत की बात कही, लेकिन ट्रेन छूटने की आशंका पर नजरू ने रोक लिया।

इधर, शोहदों ने बदसलूकी और अश्लील फब्तियां कसनी जारी रखीं। फतेहपुर से पहले रसूलाबाद स्टेशन पर ट्रेन के रुकते ही दोनों शोदहों से पीछा छुड़ा समान छोड़ ट्रेन से उतर गईं। दोनों आरपीएफ चौकी पहुंचीं और व्यथा सनाई। सिपाहियों ने दोनों को जीआरपी फतेहपुर पहुंचाया। वहां मां-बेटी ने पुलिस को ट्रेन में सामान छूटने की जानकारी दी।

इस पर फतेहपुर जीआरपी ने कानपुर सेंट्रल फोन कर महिला का सामान ट्रेन से उतारने को कहा। जीआरपी ने इलाहाबाद उधमपुर एक्सप्रेस में मां-बेटी को सवार कर कानपुर रवाना कर दिया। फतेहपुर में शोहदे फिर इसी ट्रेन में मिल गए और उन्होंने अश्लीलता की हदें पार कर दीं।

रिपोर्ट के मुताबिक रात दो बजे चारों ने बेटी को दबोच लिया तो आबरू बचाने को चंदारी स्टेशन के पास दोनों चलती ट्रेन से कूद गईं। दोनों के सिर में गंभीर चोटें आयीं। वे किसी तरह चंदारी स्टेशन पहुंचीं। यहां से पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने दोनों को एक निजी अस्पताल पहुंचाया।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here