मोदी सरकार द्वारा काले धन पर कार्रवाई के दावों के बीच स्विस बैंकों में जमा भारतीयों का पैसा 50 फीसदी बढ़ा, पाकिस्तानियों का 21% घटा है धन

0

कालेधन पर कार्रवाई का दावा करने वाली केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के लिए स्विस नेशनल बैंक (SNB) की ओर से जारी रिपोर्ट बड़े झटके की तरह है। रिपोर्ट के मुताबिक, स्विस बैंकों में भारतीयों का धन 50 प्रतिशत बढ़कर लगभग 7000 करोड़ रुपये हो गया है। भारतीयों द्वारा स्विस बैंक खातों में सीधे तौर पर रखा गया धन बढ़कर 99.9 करोड़ स्विस फ्रैंक (करीब 6,900 करोड़ रुपये) और दूसरों के माध्यम से जमा कराया गया धन भी बढ़कर 1.6 करोड़ स्विस फ्रैंक (करीब 110 करोड़ रुपये) हो गया है।

Photo Credit: REUTERS

आंकड़ों के अनुसार स्विट्जरलैंड के बैंक खातों में विदेशी ग्राहकों का कुल धन 1460 अरब स्विस फ्रैंक (करीब 100 लाख करोड़ रुपये) से अधिक है। स्विट्जरलैंड के केंद्रीय बैंक ने गुरुवार को विदेशी जमाराशि के आंकड़े जारी किए। स्विस नेशनल बैंक (एसएनबी) के सालाना आंकड़ों के अनुसार स्विस बैंक खातों में जमा भारतीय धन 2016 में 45 प्रतिशत घटकर 67.6 करोड़ फ्रैंक (लगभग 4500 करोड़ रुपए) रह गया।

हिंदुस्तान में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक चार साल में पहली बार स्विस बैंक में जमा धन बढ़ कर पिछले साल एक अरब स्विस फैंक (7,000 करोड़ रुपये) के दायरे में पहुंच गया है। यह आंकड़ा एक साल पहले की तुलना में 50 प्रतिशत की वृद्धि को दर्शाता है। स्विट्जर लैंड के केंद्रीय बैंक के ताजा आंकड़ों में यह बात सामने आई है। इसके अनुसार भारतीयों द्वारा स्विस बैंक खातों में रखा गया धन 2017 में 50% से अधिक बढ़कर 7000 करोड़ रुपये (1.01 अरब फ्रेंक) हो गया। इससे पहले तीन साल यहां के बैंकों में भारतीयों के जमा धन में लगातार गिरावट आई थी।

अपनी बैंकिंग गोपनीयता के लिए पहचान बनाने वाले इस देश में भारतीयों के जमाधन में ऐसे समय दिखी बढ़ोतरी हैरान करने वाली है, जबकि भारत सरकार विदेशों में कालाधन रखने वालों के खिलाफ अभियान चलाए हुए है। स्विस नेशनल बैंक (एसएनबी) के सालाना आंकड़ों के अनुसार स्विस बैंक खातों में जमा भारतीय धन 2016 में 45 प्रतिशत घटकर 67.6 करोड़ फ्रेंक ( लगभग 4500 करोड़ रुपये) रह गया। यह राशि 1987 से इस आंकड़े के प्रकाशन की शुरुआत के बाद से सबसे कम थी।

एसएनबी के आंकड़ों के अनुसार भारतीयों द्वारा स्विस बैंक खातों में सीधे तौर पर रखा गया धन 2017 में लगभग 6891 करोड़ रुपये (99.9 करोड़ फ्रेंक) हो गया। वहीं प्रतिनिधियों या धन प्रबंधकों के जरिए रखा गया धन इस दौरान 112 करोड़ रुपये (1.62 करोड़ फ्रेंक) रहा। ताजा आंकड़ों के अनुसार स्विस बैंक खातों में जमा भारतीयों के धन में ग्राहक जमाओं के रूप में 3200 करोड़ रुपये, अन्य बैंको के जरिए 1050 करोड़ रुपये शामिल है। इन सभी मदों में भारतीयों के धन में आलोच्य साल में बढ़ोतरी हुई।

स्विस बैंक खातों में रखे भारतीयों के धन में 2011 में इसमें 12%, 2013 में 43%, 2017 में इसमें 50.2% की वृद्धि हुई। इससे पहले 2004 में यह धन 56% बढ़ा था। एसएनबी के ये आंकड़े ऐसे समय में जारी किए गए हैं जबकि कुछ महीने पहले ही भारत व स्विटजरलैंड के बीच सूचनाओं के स्वत: आदान प्रदान की एक नयी व्यवस्था लागू की गई है। इस व्यवस्था का उद्देश्य काले धन की समस्या से निजात पाना है।

पाकिस्तानियों का 21% घटा है धन

एक तरफ भारतीयों के पैसे में बढ़ोतरी हुई है तो वहीं पाकिस्तानियों की जमापूंजी में करीब 21 फीसदी की गिरावट आई है। स्विस बैंकों में पिछले साल पाकिस्तानी नागरिकों का पैसा 21 फीसदी घटकर करीब 7,700 करोड़ रुपए रह गया। पाकिस्तानियों के लिहाज से यह अब तक की सबसे कम रकम है। भारतीयों की रकम में 50 प्रतिशत इजाफे के बावजूद पाकिस्तानियों के डिपॉजिट से कम ही है।

Uttarakhand CM insults woman teacher

WATCH! Arrogant Uttarakhand CM Trivendra Rawat makes mockery of PM Modi's beti bachao campaign, publicly insults widowed teacher in janta darbar http://www.jantakareporter.com/videos/arrogant-uttarakhand-cm-trivendra-rawat-makes-mockery-of-pm-modis-beti-bachao-campaign-publicly-insults-widowed-teacher/194819/

Posted by Rifat Jawaid on Thursday, June 28, 2018

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here