RSS प्रमुख मोहन भागवत ने सुषमा स्वराज के पिछले 70 सालों में भारत की प्रगति के वक्त्व्य को नकारा

0

संयुक्त राष्ट्र महासभा के 72वें सत्र को संबोधित करते हुए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने शनिवार(23 सितंबर) को कहा था कि आजादी के बाद पिछले 70 वर्षों में कई पार्टियों की सरकारें रही हैं और हमने लोकतंत्र को बनाए रखा और प्रगति की  है लेकिन सुषमा स्वराज के भाषण में पिछले 70 सालों की प्रगति को RSS प्रमुख मोहन भागवत ने खारिज कर दिया है।

मोहन भागवत

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) प्रमुख मोहन भागवत ने नागपुर मुख्यालय में विजयदशमी कार्यक्रम के दौरान अपने भाषण में कहा कि हमें आजाद हुए 70 साल हो गए हैं, लेकिन पहली बार दुनिया को लग रहा है कि भारत थोड़ा-थोड़ा उठ रहा है। नागपुर मुख्यालय में शस्त्र पूजन के बाद उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए भागवत ने मोदी सरकार की खूब तारीफ की।

संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने संबोधन में सुषमा ने कहा कि भारत ने आईआईटी, एम्स, आईआईएम बनाए, डॉक्टर, इंजीनियर और वैज्ञानिक बनाए है। विदेश मंत्री ने कहा कि हमने वैज्ञानिक और तकनीकी संस्थान स्थापित किए जिन पर दुनिया को गर्व है।

हालांकि, शनिवार को, नागपुर में समूह के मुख्यालय में वार्षिक विजया दशमी भाषण देने के दौरान, भागवत ने यूएनजीए में अपने भाषण के दौरान सुषमा स्वराज ने जो कुछ कहा था उसे सब नकार दिया। सोशल मीडिया पर मोहन भागवत द्वारा पहली बार आजादी महसूस करने को लेकर विभिन्न तरह की प्रतिक्रियाएं सामने आई।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here