नई मिसाल बने मोहम्मद शमी, बेटी को आईसीयू में छोड़ भारत को विश्व की नंबर-1 टीम बनाने के लिए मौहम्मद शमी को सलाम

0

कोलकाता में खेले गए 3 टेस्ट मैचों की सीरीज के दूसरे मैच में टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड को हराकर आईसीसी रैंकिंग में नंबर वन स्थान हासिल कर लिया, लेकिन इसमें टीम इंडिया के तेज गेंदबाजों का अहम रोल रहा। खासतौर से तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी का, जिन्होंने दोनों पारियों में 3-3 विकेट चटकाकर टीम की जीत पक्की कर दी।

हालांकि पहली पारी में भुवनेश्वर कुमार ने भी 6 विकेट लिए थे, लेकिन शमी का प्रदर्शन एक और वजह से खास बन गया. उन्होंने इस मैच में कमिटमेंट की अनूठी मिसाल पेश की और बेटी के गंभीर रूप से बीमार होने के बावजूद खेल के प्रति पूरी तरह से समर्पित रहे।

Also Read:  आरबीआई ने रेपो रेट में 50 बेसिस अंक की कटौती की

हुआ यह कि मैच के दौरान ही उनकी बेटी गंभीर रूप से बीमार हो गई और उसे आईसीयू में भर्ती कराना पड़ा. इसके बावजूद शमी मैच से पीछे नहीं हटे और पूरे मैच के दौरान उन्हें देखकर कहीं से भी नहीं लगा कि वह किसी परेशानी से गुजर रहे हैं। उनके जज्बे को देखकर कप्तान विराट कोहली भी हतप्रभ रह गए और उनकी सराहना की।

Also Read:  दिल्ली के व्यक्ति पर बिजली चोरी के मामले में अदालत ने लगाया 1.48 करोड़ रुपये का जुर्माना
Congress advt 2

एनडीटीवी की खबर के अनुसार, कोलकाता टेस्ट मैच के दूसरे दिन मोहम्मद शमी की 14 माह की बेटी आयरा को तेज बुखार आ गया और उन्हें सांस लेने में भी परेशानी होने लगी. इस पर आयरा को कोलकाता के एक हास्पिटल में भर्ती कराया गया. डॉक्टरों ने गंभीर स्थिति को देखते हुए उनको तीसरे दिन यानी 2 अक्टूबर को आईसीयू में रखने का फैसला किया. दिन का खेल खत्म होने के बाद शमी हर दिन शाम को हॉस्पिटल पहुंच जाते थे और सुबह वापस मैच के लिए ईडन में दिखाई देते थे।

Also Read:  कुमार विश्‍वास ने कहा- हिंदी को लोकप्रिय बनाने में योगदान के बावजूद, सरकार फिर भी सरकारी कार्यक्रमों में नहीं देती न्‍योता

संयोग से कोलकाता टेस्ट चौथे दिन ही खत्म हो गया और शमी एक दिन पहले ही फ्री हो गए. हालांकि उसी दिन उनकी बेटी भी हॉस्पिटल से डिस्चार्ज हो गई।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here