नई नौकरियां न दे पाना मोदी सरकार की सबसे बड़ी नाकामी सर्वे

0

देश में नरेन्द्र मोदी सरकार के दो साल पूरा होने पर कराए गए एक सर्वे में लोगों ने नई नौकरियां ना पैदा कर पाने को मोदी सरकार की सबसे बड़ी नाकामी बताया है।

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की ओर से मेट्रोपोलिटन शहरों में कराए गए सर्वे में यह राय सामने आई है। 43 प्रतिशत लोगों ने इसे सरकार की असफलता करार दिया। इसके अलावा विपक्ष से झगड़े के मूड में रहने को भी लोगों ने सरकार की असफलता से जोड़ा है।

Also Read:  पीएम मोदी के बलूचिस्तान के जिक्र पर पाकिस्तान का पलटवार

modi321-kfwC--621x414@LiveMint

लोगों ने इस बार भी स्वच्छ भारत योजना को सबसे ज्यादा सराहा है। 42 प्रतिशत लोगों ने स्वच्छ भारत योजना को बेहतर करार दिया है।

वहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की महत्वाकांक्षी स्कीम मेक इन इंडिया 13 प्रतिशत के साथ दूसरे नंबर पर रही। सर्वे में शामिल दो तिहाई लोगों ने सरकार की विदेश नीति का समर्थन किया। वहीं 75 प्रतिशत ने पाकिस्तान को लेकर मोदी सरकार की नीति को साहसी और यथार्थवादी करार दिया।

Also Read:  मंदसौर किसान आंदोलन: 80 साल की बुजुर्ग महिला पर पुलिस ने जमकर बरसाई लाठियां, तोड़ी हड्डियां

जनसत्ता के मुताबिक सर्वे में करीब 20 फीसदी लोगों का कहना था कि सरकार अपनी विचारधारा से भटक गई है। करीब 50 प्रतिशत लोगों ने महंगाई में कमी आने का कुछ या पूरा श्रेय मोदी सरकार के कामकाज को दिया।

Also Read:  साप्ताहिक समीक्षाः सेंसेक्स, निफ्टी में 2 फीसदी से अधिक की गिरावट

24 प्रतिशत ने कहा कि सरकार के प्रयासों की वजह से कीमतों में कमी आई है जबकि 22 प्रतिशत लोगों के मुताबिक यह अंतरराष्ट्रीय कारकों और सरकार के प्रयासों का नतीजा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here