मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर जागी मोदी सरकार, राज्यों के लिए जारी की एडवाइजरी

0

कथित गोरक्षकों के भेष में हिंदुत्व आतंकियों का उत्पात और भीड़ द्वारा पीट-पीटकर मार डालने की घटनाएं रुकने का नाम ही नहीं ले रहीं है। मॉब लिंचिंग की लगातार बढ़ती घटनाओं के बीच अब केन्द्र सरकार ने गुरुवार(5 जुलाई) को राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से सोशल मीडिया पर बच्चा चोरी की अफवाहों के बाद भीड़ द्वारा पीट-पीटकर मार डालने की घटनाओं को रोकने के लिये कहा।

प्रतिकात्मक फोटो

समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, बीते दो महीनों में बच्चा चोरी के संदेह में देशभर में 20 से अधिक लोगों को पीट-पीटकर मार डाला गया है और ताजा मामला महाराष्ट्र के धुले जिले का है जहां भीड़ ने पांच लोगों की पीट-पीटकर जान ले ली। गृह मंत्रालय ने एक परामर्श में राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से ‘बच्चा चोरी की अफवाहों का जल्दी पता लगाने के लिये पैनी नजर रखने और उन्हें रोकने के लिये असरदार उपाय शुरू करने’ को कहा।

गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘केन्द्र ने राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से सोशल मीडिया पर बच्चा चोरी की अफवाहें फैलाकर भीड़ द्वारा पीट-पीटकर मार डालने की घटनाओं को रोकने के लिये उपाय करने को कहा।’ उनके अनुसार, राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से जिला प्रशासनों को असुरक्षित क्षेत्रों की पहचान करके जागरूकता फैलाने तथा विश्वास बहाल करने का निर्देश देने को कहा गया।

प्रवक्ता ने बताया कि राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से प्रभावित लोगों में विश्वास पैदा करने के लिये बच्चों के अपहरण की शिकायतों की जांच उचित ढंग से करने को कहा गया। गौरतलब है कि मंगलवार को सरकार ने व्हाट्सएप को, गैरजिम्मेदार एवं बवाल मचाने वाले संदेशों ’’ को फैलने से रोकने के लिये तत्काल कदम उठाने का निर्देश दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here