मोदी को भगवान का उपहार बताये जाने पर संघ जताई नाराज़गी, कहा व्यक्ति विशेष का गुणगान बंद हो

0

आरएसएस ने भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री वैंकया नायडू द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भगवान का उपहार बताये जाने के बयान पर आपत्ति ज़ाहिर की है ।

सूत्रों के अनुसार संघ के कई नेताओं की हाल ही में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के साथ मीटिंग हुई जिस के दौरान संघ ने साफ़ शब्दों में इस मुद्दे पर अपनी नाराज़गी ज़ाहिर की और पार्टी को किसी व्यक्ति विशेष का गुणगान ना करने की नसीहत भी दी ।

पिछले सप्ताह भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की मीटिंग के दौरान नायडू ने कथित तौर पर मोदी को देश केलिए भगवान का उपहार बताया था ।

उनके इस बयान को भाजपा के विरोधियों ने चाटुकारिता बताया था और सोशल मीडिया पर भी उनकी बहुत खिल्ली उड़ाई गई थी ।

संघ के वरिष्ठ नेताओं की हाल में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह सहित कई और नेताओं के साथ मीटिंग हुई । इस मीटिंग का उद्देश्य आरएसएस द्वारा नागौर में आयोजित प्रतिनिधि सभा में लिए गए फैसलों से भाजपा नेताओं को अवगत करना था ।

आरएसएस की ओऱ से सुरेश भैयाजी जोशी, कृष्णा गोपाल और दत्तरेय होशबले मौजूद थे ।

इस मीटिंग में राष्ट्रवाद के मुद्दे पर भी चर्चा हुई और संघ ने इस मुद्दे पर भाजपा के रुख की सराहना की लेकिन साथ ही साथ भविष्य में पार्टी को विकास के मुद्दे पर भी संजीदगी से काम करने की नसीहत की ।

सूत्रों के अनुसार आरक्षण का मुद्दा भी सामने आया और भाजपा नेताओं ने संघ से विनती की कि इस मुद्दे पर संघ के नेता सार्वजनिक रूप से कोई बयान न दे तो पार्टी केलिए अच्छा होगा क्यूंकि इससे देशवासियों की नज़र में प्रधानमंत्री की छवि ख़राब होती है और उन्हें बार बार संघ के बयानों पर सफाई देनी पड़ती है ।

LEAVE A REPLY