VIDEO: रेस्तरां में नाश्ता कर रहे राजदीप सरदेसाई के साथ बदसलूकी, पत्रकार के सिर पर सवार होकर प्रधानमंत्री के समर्थकों ने लगाए ‘मोदी-मोदी’ के नारे

0

देश के सबसे वरिष्ठ पत्रकारों में से एक राजदीप सरदेसाई के साथ बदसलूकी का मामला सामने आया है। वायरल हो रहे वीडियो में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समर्थकों की उद्दंडता की सभी हदें पार कर दिए हैं। कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु के एक रेस्तरां में नाश्ता करने के दौरान वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई के सिर पर सवार होकर कुछ प्रधानमंत्री के समर्थकों ने ‘मोदी-मोदी’ के नारे लगाए।

माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर गिरीश अल्वा नाम के एक यूजर ने एक 5 सेकंड का वीडियो शेयर किया है, जिसमें दिख रहा है कि पीएम मोदी और बीजेपी के कुछ समर्थक रेस्तरां में नाश्ता कर रहे राजदीप सरदेसाई को परेशान कर रहे हैं। वीडियो में दिख रहा है कि राजदीप नाश्ता कर रहे हैं और उनके कुछ आलोचक व पीएम मोदी के समर्थक उनके पास पहुंचकर ‘मोदी-मोदी’ चिल्लाने लगते हैं।

इतना ही नहीं मोदी समर्थक राजदीप को परेशान करते हुए आगे कहते हैं, “तुम भारत में पैदा हुए हो, हिंदुओं से इतनी नफरत मत करो।” हालांकि उस दौरान राजदीप सरदेसाई ने मोदी समर्थकों का विरोध नहीं किया और वह चुपचाप नाश्ता करते रहे। गिरीश अल्वा ने अपने ट्वीट में इस घटना को राजदीप के साथ अमेरिका के मैडिसन स्क्वायर में हुई घटना से तुलना की है। जहां उनके साथ मोदी समर्थकों ने बदसलूकी की थी।

हालांकि वीडियो वायरल होने के बाद राजदीप सरदेसाई ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट कर लिखा है, “यह लोग (मोदी समर्थक) अपने ट्वीट में यह नहीं बताएंगे कि किस तरह रेस्त्रां में मौजूद सभी लोग उनके पास आए और सॉरी बोला। यह गुंडे न तो बेंगलुरु की पहचान हैं और न ही भारत की। उम्मीद बाकी है।”

सोशल मीडिया पर हुई आलोचना

नाश्ता के दौरान राजदीप सरदेसाई के साथ हुई बदसलूकी को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स में काफी नाराजगी है। वरिष्ठ पत्रकार नरेंद्र नाथ मिश्रा ने लिखा है, “यह बहुत ही शर्मनाक तस्वीर है। @sardesairajdeep से आप मतभेद करें लेकिनऐसा व्यवहार?? खाना खा रहे व्यक्ति से ऐसा?? यही संस्कार, यही सभ्यता, यही हमारा राष्ट्रवाद है?? अगर इसमें किसी को फक्र,शान दिख रहा है तो हम बस ऊपरवाले से दुआ की कर सकते हैं-सबको सन्मति दे भगवान”

वहीं एक अन्य पत्रकार ने इस वीडियो को शेयर करते हुए नाराजगी व्यक्त किया है और लिखा है, “ये राजदीप ही हैं, जिन्होंने बर्दाश्त कर लिया। मैं होता तो, कसम से, पकड़ के लतिया देता…बाद में भले ही अहिंसा और बौद्धिकता का लेक्चर सुन लेता!”

https://twitter.com/AfshanaKhan1786/status/993577140238012417

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here