CAA पर माइक्रोसॉफ्ट के CEO सत्या नडेला का बड़ा बयान, बोले- ‘जो हो रहा है वह दुखद… यह सिर्फ बुरा है’

0

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्य नडेला ने बड़ा बयान दिया है। सत्य नडेला ने सोमवार को एक कार्यक्रम में कहा कि मुझे लगता है कि जो हो रहा है वह दुखद है, यह बहुत बुरा है।

फाइल फोटो: सोशल मीडिया

माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्य नडेला ने CAA को लेकर कहा कि, ”मुझे लगता है कि जो कुछ हो रहा है वह दुखद है, यह सिर्फ बुरा है। मुझे एक बांग्लादेशी आप्रवासी देखना पसंद आएगा जो भारत आता है और अपने सक्रिय योगदान से इन्फोसिस का अगला सीईओ बनता है।”

सत्या नडेला का यह बयान बेन स्मिथ ने अपने ट्विटर पर शेयर किया है। बेन स्मिथ वेबसाइट BuzzfeedNews के एडिटर-इन-चीफ हैं। बेन स्मिथ ने ट्वीट कर बताया कि भारत में जन्मे सत्य नडेला ने एक सवाल के जवाब ये बातें कही है।

मशहूर इंतिहासकार रामचंद्र गुहा ने सत्य नडेला के इस बयान का स्वागत करते हुए खुशी जाहिर की है। उन्होंने कहा, ” ‘मैं खुश हूं कि सत्य नडेला ने वो कहा जो वो महसूस करते थे। मैं चाहता हूं कि हमारे अपने आईटी सेक्टर के लोगों में वह कहने का साहस हो जो वह सोचते हैं।”

बता दें कि, रामचंद्र गुहा उन लोगों में हैं जो लगातार इस कानून का विरोध कर रहे हैं। इसी कारण पिछले महीने उन्हें बेंगलोर में गिरफ्तार भी किया गया था।

बता दें कि, नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) पिछले साल 11 दिसंबर को संसद द्वारा पारित किया गया था और 10 जनवरी से यह प्रभावी भी होग गया है। इस कानून के अनुसार हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई समुदायों के जो सदस्य 31 दिसंबर 2014 तक पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से भारत आए हैं और जिन्हें अपने देश में धार्मिक उत्पीड़न का सामना करना पड़ा है, उन्हें गैरकानूनी प्रवासी नहीं माना जाएगा, बल्कि भारतीय नागरिकता दी जाएगी।

गौरतलब है कि, नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) के खिलाफ देश के कई राज्यों में पिछले कुछ दिनों से जमकर विरोध-प्रदर्शन हो रहे है। इस प्रदर्शन के दौरान उत्तर प्रदेश और दिल्ली समेत कई राज्यों में हिंसात्मक घटनाएं भी हुईं, जिसमें कई लोगों की मौत हो गई। वहीं, दूसरी और केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के समर्थन में जन जागरण अभियान भी चला रही है।

नागरिकता संशोधन कानून का कांग्रेस, टीएमसी समेत लगभग सभी विपक्षी दल विरोध कर रहे हैं। दिल्ली, यूपी, पश्चिम बंगाल, बिहार, असम में इस ऐक्ट के विरोध में जोरदार प्रदर्शन हुए थे। देश के कई हिस्सों में लोग इसका विरोध करते हुए प्रदर्शन कर रहे हैं। दिल्ली में भी हिंसक प्रदर्शन हुए थे। विपक्षी दलों की मांग है कि, सरकार यह कानून वापस ले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here