कोरोना वायरस लॉकडाउन को लेकर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने जारी की नई गाइडलाइंस, 20 अप्रैल से कृषि समेत कई गतिविधियों को मिलेगी छूट

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 3 मई तक देशभर में लॉकडाउन को बढ़ाए जाने के बाद गृह मंत्रालय ने बुधवार को नई गाइडलाइंस जारी की हैं। गाइडलाइंस के मुताबिक, बस, रेल मेट्र और विमान सेवाओं पर रोक जारी रहेगी। सार्वजनिक जगहों पर थूकने पर जुर्माना लगेगा। सिनेमा हॉल, जिम, मॉल पर रोक जारी रहेगी। इसके अलावा स्कूल, कोचिंग सेंटर भी बंद ही रहेंगे। कृषि से जुड़े कामों को लॉकडाउन में इजाजत दी गई। इसके अलावा मनरेगा के तहत काम को भी इजाजत दी गई है।

लॉकडाउन

गृह मंत्रालय द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार, MGNREGA के सभी कामों को भी अनुमति, कृषि संबंधी सभी गतिविधियां, फिशरीज़ से जुड़ी चुनिंदा गतिविधियां, पशुपालन से जुड़ी चुनिंदा गतिविधियां, बैंकिंग गतिविधियां, सभी अनाथाश्रम, वृद्धाश्रम, महिलाश्रम, विधवाश्रम आदि; ऑनलाइन शिक्षण, जरूरी सामानों की आवाजाही, प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, IT तथा IT-enabled सेवाएं, ई-कॉमर्स कंपनियां, कूरियर सर्विस, कोल्ड स्टोरेज, प्राइवेट सिक्योरिटी सर्विस, होटल, लॉज आदि चीजों में छूट मिलेगी।

गृह मंत्रालय (MHA) द्वारा दिशा निर्देश में सभी सामाजिक, राजनीतिक, खेल, धार्मिक समारोह, धार्मिक स्थल, प्रार्थना स्थल तीन मई तक जनता के लिए बंद रहेंगे। एमएचए ने लॉकडाउन पर कहा, ”सिनेमा हॉल, मॉल्स, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, जिम, खेल परिसर, स्विमिंग पूल, बार तीन मई तक बंद रहेंगे।”

एमएचए दिशा निर्देश में शैक्षणिक संस्थान, कोचिंग केंद्र, घरेलू एवं अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा, ट्रेन सेवाएं तीन मई तक स्थगित रहेंगी। वहीं, गृह मंत्रालय ने लॉकडाउन पर दिशा निर्देशों में कहा, ”लोगों की अंतर-राज्यीय, अंतर-जिला आवाजाही, मेट्रो, बस सेवाओं पर तीन मई तक रोक जारी रहेगी।”

बता दें कि, कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लागू देशव्यापी लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ाने की मंगलवार को घोषणा करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा था कि संक्रमण पर रोक लगाने में लॉकडाउन के प्रभावी नतीजे मिले हैं। प्रधानमंत्री ने राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा कि दूसरे चरण में लॉकडाउन का सख्ती से पालन सुनिश्चित किया जाएगा।

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा था कि जिन क्षेत्रों में हालात खराब होने की आशंका नहीं होगी, वहां 20 अप्रैल के बाद कुछ राहत दी जा सकती हैं। उन्होंने नागरिकों से कहा था कि, ‘‘3 मई तक पूरी श्रद्धा के साथ लॉकडाउन के नियमों का पालन करें, जहां हैं वहीं रहें, सुरक्षित रहें।’’ मोदी ने कहा कि राज्यों एवं विशेषज्ञों से चर्चा और वैश्विक स्थिति को ध्यान में रखते हुए भारत में लॉकडाउन को अब 3 मई तक और बढ़ाने का फैसला किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here