जब मेक्सिको में पानी से बाहर आया 16वीं शताब्दी का यह चर्च

0

मेक्सिको के दक्षिण इलाके में एक बाँध परियोजना के चलते 16वीं शताब्दी का एक चर्च 49 साल पहले डूब गया था, जो की वहां पड़े भयंकर सूखे की वजह से दोबारा बाहर आ गया है। इस चर्च को देखने के लिए भारी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ आई है।

मेक्सिको

सैंटियागो अपोस्टल नाम का यह चर्च डोमिनिकन भिक्षुओं द्वारा बनाया गया था। यह चर्च साल 1966 में ग्रिजाल्वा नदी पर हुए बांध के निर्माण की वजह से 49 साल पहले डूब गया था। यहीं नहीं इस बाँध के निर्माण की वजह से क्यूचुला में रहने वाले निवासियों जोक्यू लोगों को भी विस्थापित होना पड़ गया था।

मेक्सिको

पूरा इलाका इस साल भारी सूखे से गुज़र रहा है जिसकी वजह से इस चर्च का 15 मीटर (49 फुट) ऊंचा हिस्सा पानी से बाहर आ गया है। पूरी तरह से खंडहर बन चुके इस चर्च की दिवारों पर झाड़ियाँ उग आई हैं और पक्षियों ने इसमें अपने घोसले भी बना लिए हैं। अल्वारेज़ डियाज़ नाम के एक शक्श ने इसे देखकर अपनी नौका सेवा तक शुरू कर दी है, जो लोगों को इस चर्च को देखने के लिए ले जाती है।

मेक्सिको

हालांकि यह पहली बार नहीं हुआ है जब ये चर्च पानी से भार आया हो इससे पहले भी साल 2002 में इसका पूरा हिस्सा पानी से बाहर दिखाई सेठा था।

LEAVE A REPLY