जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाने के बाद महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला को किया गया गिरफ्तार

0

केंद्र सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटने के बाद पुलिस ने सोमवार शाम को राज्य के दो पूर्व मुख्यमंत्रियों महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला समेत चार नेताओं को गिरफ्तार कर लिया है।

जम्मू कश्मीर
फाइल फोटो: सोशल मीडिया

महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला के अलावा जम्मू कश्मीर पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के नेताओं सज्जाद लोन और इमरान अंसारी को भी गिरफ्तार किया गया है। अधिकारियों ने विस्‍तृत जानकारी देने से इनकार करते हुए बताया कि जल्‍द ही कुछ और नेताओं की भी गिरफ्तारियां हो सकती है। केंद्र द्वारा जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाए जाने और राज्य को दो हिस्सों में बांटे जाने के कुछ घंटे बाद ये गिरफ्तारियां हुईं।

गौरतलब है कि पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती के अलावा उमर अब्दुल्ला और स्थानीय नेता सज्जाद लोन को भी रविवार देर रात नजरबंद कर दिया गया था। इसके बाद यह तय हो गया था कि अगले कुछ घंटे बाद कश्मीर को लेकर सरकार बड़ा फैसला लेने वाली है।

धारा 370 को खत्म करने के बाद महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट कर कहा था कि, आज का दिन भारतीय लोकतंत्र का स्याह दिन है. धारा 370 (Article 370) निरस्त करने का भारत सरकार का एकतरफा फैसला गैर कानूनी, असंवैधानिक है। जम्मू-कश्मीर में भारत संचालन बल बन जाएगा। अनुच्छेद 370 पर उठाया गया कदम उपमहाद्वीप के लिए विनाशकारी परिणाम लेकर आएगा, वे जम्मू-कश्मीर के लोगों को आतंकित कर इस क्षेत्र पर अधिकार चाहते हैं। भारत कश्मीर के साथ किये गए वादों को पूरा करने में नाकाम रहा है।

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री एवं नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने अनुच्छेद 370 पर सरकार के कदम को “एकतरफा एवं चौंकाने वाला” करार दिया और कहा था कि यह राज्य की जनता के साथ “पूरी तरह विश्वासघात” है।

बता दें कि केंद्र की मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर से धारा 370 और 35A को खत्म करने का सोमवार को ऐलान किया था। सरकार ने इसके साथ साथ जम्मू कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने का बिल भी सरकार ने सोमवार को राज्यसभा से पारित करवा लिया। प्रस्ताव को अब लोकसभा में मंगलवार को चर्चा और पास कराने के लिए पेश किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here