J&K: कठुआ बलात्कार-हत्याकांड मामले में आरोपियों का समर्थन करने वाले BJP मंत्रियों के इस्तीफे को CM महबूबा मुफ्ती ने किया स्वीकार

0

जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने रविवार (15 अप्रैल) को बीजेपी के उन दो विवादित मंत्रियों के इस्तीफे स्वीकार कर लिए जो कठुआ में आठ साल की मुस्लिम लड़की के बलात्कार और हत्या के संबंध में गिरफ्तार आरोपियों के समर्थन में आयोजित एक रैली में शामिल हुए थे।

समाचार एजेंसी भाषा की ख़बर के मुताबिक, अधिकारियों ने कहा कि लाल सिंह और चंद्र प्रकाश गंगा के इस्तीफे बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सत शर्मा से रविवार सुबह प्राप्त हुए जिन्हें तुरंत स्वीकार कर लिया गया और प्रक्रिया संबंधी औपचारिकताओं को पूरा करने के लिए उन्हें राज्यपाल एन एन वोहरा के पास भेजा गया। इन इस्तीफों के साथ राज्य सरकार में मंत्रियों की संख्या घटकर 22 हो गई है जिसमें बीजेपी के नौ मंत्री हैं।

उन्होंने कहा कि मंत्रिपरिषद में तीन पद रिक्त हैं क्योंकि पीडीपी ने पिछले महीने वित्त मंत्री हसीब द्राबू को पद से हटा दिया था। जम्मू में शनिवार को पार्टी के विधायकों के साथ सलाह मशविरा करने वाले बीजेपी महासचिव राम माधव ने घोषणा की थी कि आगे की कार्रवाई के लिए इस्तीफे आगे बढाए जाएंगे।

रिपोर्ट के मुताबिक, गंगा और सिंह ने एक मार्च को एक रैली में भाग लिया था जिसका आयोजन जम्मू कश्मीर पुलिस की अपराध शाखा द्वारा एक बच्ची के बलात्कार और हत्या के संबंध में एक मंदिर का रखरखाव करने वाले के भतीजे को गिरफ्तार करने के बाद किया गया था।

जांच के दौरान, पुलिस ने रखरखाव करने वाले को गिरफ्तार करके आरोप लगाया था कि वह इस लड़की के बलात्कार और हत्या का मुख्य साजिशकर्ता था। पुलिस ने दावा किया था कि अपराध की मंशा घुमंतू समुदाय को आतंकित करना और उन्हें गांव से बाहर करना था।

लड़की का 10 जनवरी को अपहरण किया गया था और उसका शव 17 जनवरी को मिला। जांच के दौरान अपराध शाखा ने आरोप लगाया कि उसे नशीली दवा दी गई और उसकी हत्या से पहले उसके साथ बार बार बलात्कार किया गया।

दोनों मंत्रियों का कहना था कि उन्हें पार्टी ने कठुआ भेजा था ताकि जमीनी स्थिति समझी जा सके। दोनों मंत्री बलात्कार के आरोपियों के समर्थन में आयोजित इस रैली में मौजूद थे जहां तिरंगे भी फहराए गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here