गृहमंत्री के बेटे के गेस्ट हाउस ‘मर्विलिन इन’ से चल रहा था सेक्स रैकेट, पुलिस ने जताया संदेह

0

एक 14 साल की नाबालिग लड़की से जुड़े सेक्स रैकेट के मामले में वांछित मेघालय के निर्दलीय विधायक जूलियस दोरफांग को असम से गिरफ्तार किया गया था। 16 दिसंबर को एक नाबालिग द्वारा दर्ज कराई गई FIR में कहा गया कि उसे शिलॉन्ग स्थित रिलबॉन्ग पॉश कॉलोनी के एक गेस्ट हाउस में ले जाया जाता था जहां उसे कई कस्टमर्स को खुश करना पड़ता था।

आरोप है कि इस सेक्स रैकेट का खुलासा उस समय हुआ जब पिछले महीने 14 वर्षीय एक नाबालिग लड़की की तस्करी के मामले में वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं राज्य के गृह मंत्री एचडीआर लिंगदोह के बेटे के स्वामित्व वाले  ‘मर्विलिन इन’ गेस्ट हाउस के एक कर्मचारी को गिरफ्तार किया गया था।

इस हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट की जांच में जुटी पुलिस को शक है कि जरूर इस सेक्स रैकेट में बड़े नाम शामिल हो सकते हैं।  मेघालय के गृहमंत्री एचडीआर लिंगहोह के परिवार द्वारा चलाए जा रहे एक गेस्ट हाउस ‘मर्विलिन इन’ की पुलिस गंभीरता से जांच कर रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ‘मर्विलन इन’ गेस्ट हाउस नाथिनल अॉसबर्ट रमबाई का है, जो लिंगदोह का बेटा है। शिलॉन्ग के एसपी विवेक सैम ने कहा कि हमने 9 लोगों को गिरफ्तार किया है। वहीं गेस्ट हाउस मर्विलिन इन के मालिक रमबाई ने एेसे किसी सेक्स रैकेट की जानकारी होने से इनकार किया है।

4 दिनों पहले एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा था, मेरे मैनेजर में बताया था कि पुलिस ने एक वेटर को पकड़ा है जो कथित तौर पर लड़की को यहां लाया था।

जबकि बाल अधिकार संरक्षण के मेघालय राज्य आयोग ने इस मामले में सिलसिलेवार शिकायतें दर्ज कराए हैं। आयोग की अध्यक्ष मीना खारखोंगगोर ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि जांच में कई अहम लोगों के नाम सामने आ सकते हैं और कई और लड़कियां इस सेक्स रैकेट की पीड़ित हो सकती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here