पाकिस्तान के कब्जे से जवान चंदू बाबूलाल को वापस लाने के लिए कोशिशें जारी

0

रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि सेना के जवान चंदू बाबूलाल चव्हाण को पाकिस्तान से वापस लाने के लिए डीजीएमओ के जरिये एक सुगठित तंत्र को सक्रिय कर दिया गया है. चव्हाण गलती से सीमा पार कर गए थे जिसके बाद पाकिस्तान ने उन्हें पकड़ लिया।

भाषा की खबर के अनुसार, पर्रिकर ने कहा, ‘वह सीमा पार कर गए, ऐसा सीमाई इलाकों में होता रहता है. डीजीएमओ (सैन्य अभियान महानिदेशक) के जरिये एक सुगठित तंत्र को सक्रिय कर दिया गया है.’ उन्होंने साथ ही कहा कि लोगों को सतर्क रहना चाहिए और किसी भी असामान्य चीज की पुलिस को जानकारी देनी चाहिए।

Also Read:  J&K cop tricked into passing troop deployment info to Pakistani spy

बीती 30 सितंबर को 37 राष्ट्रीय रायफल्स के जवान चव्हाण गलती से नियंत्रण रेखा पार कर गए थे. डीजीएमओ ने हॉटलाइन पर पाकिस्तान को इसकी जानकारी दे दी है. सेना ने कहा, ‘दोनों ही तरफ सेना और आम नागरिकों का गलती से सीमा पार कर जाना असामान्य नहीं है. उन्हें मौजूदा तंत्रों के जरिये वापस ले आया जाता है।’

Also Read:  एक सप्ताह के भीतर यूपी में एक और ट्रेन हादसा, कैफियत एक्सप्रेस के 10 डिब्बे पटरी से उतरे, 74 घायल

इससे पहले शुक्रवार को गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सैनिक के परिवार को फोन कॉल कर उसकी रिहाई के लिए पूरी कोशिशें किए जाने को लेकर आश्वस्त किया था. चव्हाण के साथ हुई घटना की खबर सुनकर उसकी दादी की सदमे से मौत हो गई।

Also Read:  पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री सुरजीत सिंह बरनाला का 91 वर्ष की आयु में निधन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here