मैकडॉनल्ड्स का सीपीआरएल के साथ खत्म हुआ समझौता, बंद होंगे 169 रेस्तरां, मुश्किल में हजारों कर्मचारी

0

मैकडॉनल्ड्स इंडिया ने बोर्ड ऑफ कनॉट प्लाजा रेस्टोरेंट्स प्राइवेट लिमिटेड (सीपीआरएल) द्वारा उत्तर और पूर्व भारत में चलाए जा रहे सभी 169 रेस्त्राओं के लिए व्यावसायिक करार खत्म कर दिया है। कंपनी ने सीपीआरएल पर अनुबंध की शर्तों के उल्लंघन और भुगतान में चूक का आरोप लगाते हुए यह कदम उठाया है और इससे वह अब मैकडॉनाल्ड के नाम, चिह्न और बौद्धिक सम्पदा का इस्तेमाल नहीं कर पाएगी। ‘मैक्डी’ के प्रचलित नाम से जानी जाने वाली मैकडॉनल्ड्स अमेरिका की एक प्रमुख बर्गर रेस्त्रां कंपनी है और मैकडॉनाल्ड्स इंडिया इसकी भारतीय इकाई है। आपसी समझौता रद्द करने के इस नोटिस से सीपीआरएल अपने बिक्री केंद्रों पर मैक्डॉनल्डस के ब्रैंड का इस्तेमाल नहीं कर पाएगी। इन केंद्रों पर हजारों की संख्या में कर्मचारी हैं।

उद्यमी विक्रम बख्शी की अगुवाई वाली सीपीआरएल का मैकडॉनाल्ड्स इंडिया से विवाद चल रहा था। यह विवाद कंपनी के प्रबंधन को लेकर था। सीपीआरएल में बख्शी और मैकडॉनाल्ड्स इंडिया आधे-आधे की भागीदार हैं। मैकडॉनल्ड्स ने हालांकि कहा है कि कर्मचारियों, आपूर्तिकर्ताओं और जमीन मालिकों आदि प्रभावितों की दिक्कतों को दूर करने को प्राथमिकता दी जाएगी।

कंपनी इसके लिए सीपीआरएल के साथ काम करने तो तैयार है। फ्रैंचाइजी समझौता खत्म किए जाने के बाद अब सीपीआरएल को अमेरिकी कंपनी के नाम, व्यावसायिक प्रतीक चिह्न, डिजाइन और उससे जुड़ी बौद्धिक संपदा आदि के इस्तेमाल करने का अधिकार नहीं रहेगा। ये शर्तें करार खत्म किए जाने के नोटिस के 15 दिन के अंदर लागू हो जाएंगी।

इस निर्णय से कुछ सप्ताह पहले ही सीपीआरएल ने दिल्ली के अपने 43 रेस्त्रां बंद कर दिए थे, क्योंकि स्थानीय नगर निकाय ने मैकडॉनाल्ड्स के नाम से चल रही इन दुकानों का लाइसेंस का नवीनीकरण करने से मना कर दिया था।

मैकडॉनाल्ड्स इंडिया ने सोमवार(21 अगस्त) को एक बयान में कहा कि उसने 169 रेस्त्राओं के परिचालन के लिए मैकडॉनल्ड्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड और सीपीआरएल के बीच फ्रैंचाइजी समझौता खत्म करने का नोटिस सीपीआरएल के निदेशक मंडल को भेज दिया है। उक्त सभी 169 मैक्डॉनाल्ड रेस्त्राओं का परिचालन सीपीआरएल उत्तर व पूर्वी भारत में करती है।

इस नोटिस के जवाब में विक्रम बख्शी ने कहा है कि यह निर्णय एनसीएलटी के फैसले को खुली चुनौती है, जिसने सीपीआरएल बोर्ड को बैठक कर विभिन्न मुद्दों पर विचार करने का निर्देश दिया था। बख्शी ने कहा कि इस नोटिस का समय बहुत ही संदिग्ध है, क्योंकि यह प्रशासक द्वारा बुलाई गई पहली बोर्ड बैठक की सुबह आया है। एनसीएलटी ने इस मामले में प्रशासक नियुक्त किया था।’ बख्शी ने कहा कि सीआरपीएल सभी विधिसम्मत कदम उठाने पर विचार कर रही है।

बता दें कि बख्शी को 2013 में संयुक्त उद्यम कंपनी के प्रबंध निदेशक पद से हटा दिया गया था। उसके बाद से ही सीआरपीएल के प्रबंधन के लेकर बख्शी व मैकडॉनल्ड्स की बीच कानून लड़ाई चल रही है। मैकडॉनाल्ड्स ने कहा है कि सीपीआरएल ने उसके साथ उसके नाम पर रेस्त्रां चलाने के लिए हुए अनुबंध का गंभीर उल्लंघन किया है। साथ ही मैकडॉनाल्ड्स इंडिया ने यह भी कहा है कि वह उत्तर और पूर्वी भारत में उसके साथ लाइसेंस पर काम करने और आगे विकास करने के इच्छुक उपयुक्त भागीदार की तलाश करेगी और वह इस दिशा में कदम उठा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here