MCD चुनाव: सविता खत्री को BJP ने किया निलंबित, सेक्‍स स्कैंडल में फंसे संदीप कुमार ने किया था प्रचार

0

सेक्‍स सीडी मामले में फंसे दिल्‍ली के पूर्व मंत्री संदीप कुमार एक फिर से सुर्खियों में हैं। दरअसल, सोमवार को खबर आई कि संदीप कुमार दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के लिए प्रचार कर रहे हैं। जिसके बाद आलोचनाओं में घिरी बीजेपी ने मंगलवार(18 अप्रैल) को संदीप कुमार से प्रचार कराने के बाद नरेला से बीजेपी प्रत्याशी सविता खत्री को पार्टी से निलंबित कर दिया।

संदीप

बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और MCD की जिम्मेदारी संभाल रहे विनय सहस्त्रबुद्धे ने जानकारी देते हुए कहा कि ‘नरेला वार्ड से पार्टी की प्रत्याशी सविता खत्री को तत्काल प्रभाव से वापस लिया जा रहा है अब वह इस चुनाव में पार्टी की प्रत्याशी नहीं हैं। पार्टी सविता खत्री को निष्कासित करती है।

गौरतलब है कि संदीप कुमार को आम आदमी पार्टी ने सेक्‍स सीडी सामने आने के बाद पार्टी से निकाल दिया था। संदीप कुमार के बीजेपी के लिए वोट मांगने से पार्टी नेता असहज हो गए। लोगों ने इस खबर बीजेपी पर जमकर हमला बोला था। लोगों ने आरोप लगाया कि जिस विधायक को खुद आम आदमी पार्टी ने निलंबित किया और बीजेपी खुद जिसको बलात्कारी कहती है उससे कैसे बीजेपी चुनाव प्रचार करवा सकती है।

बैकफुट पर आई बीजेपी ने मंगलवार को बताया कि ‘आम आदमी पार्टी के किसी भी आपराधिक तत्व के साथ जिनके ऊपर बलात्कार जैसे घिनौने आरोप हैं उनके साथ किसी भी तरह की साठगांठ और मेल-मिलाप कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ऐसे तत्वों का बीजेपी के अंदर कोई स्थान न था, न है और न होगा।

वहीं, प्रचार करने को लेकर संदीप का कहना है कि हमारे दोस्त जहां-जहां से लड़ेंगे चाहे बसपा से लड़ें, चाहें बीजेपी से लड़ें या कांग्रेस सबसे पहले परिवार और दोस्त हैं। यहां खत्री साहब हमारे मित्र हैं। हम इनके लिए हर घर में जाएंगे प्रचार करेंगे। इस मौके पर जब पूर्व मंत्री से पूछा गया कि क्या वे बीजेपी में शामिल होंगे तो उन्होंने कहा कि बतौर विधायक उनका कार्यकाल तीन साल का है अभी वे दूसरी पार्टी में नहीं जाएंगे।

बता दें कि जब संदीप की सीडी सामने आई थी तब वे दिल्‍ली की सरकार में एससी/एसटी कल्‍याण और महिला एवं बाल कल्‍याण मंत्री थे। इसके सामने आने के बाद अरविंद केजरीवाल ने उन्‍हें पद से हटा दिया था। उस दौरान आरोपी विधायक संदीप को बीजेपी ‘राशन कार्ड बनाने वाला मंत्री’ कहकर सड़कों पर उतरी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here