MCD चुनाव में जीत पर केजरीवाल ने BJP को दी बधाई, कहा- मिलकर करेंगे काम

0

दिल्ली नगर निगम(MCD) चुनाव की मतगणना अभी जारी है, लेकिन तीनों निगमों की सभी 270 सीटों के रुझान सामने आ गए हैं। इनमें तस्वीर काफी हद तक साफ हो गई है। रुझान में भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) बाजी मारती नजर आ रही है।MCD Elections

इस चुनाव में करारी हार के बाद आम आदमी पार्टी(आप) के कई नेताओं ने एक बार फिर EVM पर फिर सवाल खड़े किए हैं। हालांकि, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी को जीत की बधाई देते हुए साथ चलने का वादा किया है।

नतीजे आने के बाद सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘तीनों एमसीडी में जीत के लिए बीजेपी को बधाई। दिल्ली को बेहतर बनाने के लिए एमसीडी के साथ मिलकर काम करेंगे।’

वहीं, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि बीजेपी ने EVM पर रिसर्च कर महारत हासिल कर ली है और इसी के दम पर वह चुनाव जीत रही है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘बीजेपी ने 2009 का चुनाव हारने के बाद 5 साल ईवीएम पर रिसर्च कर महारत हासिल की और आज उसी रिसर्च और महारत के दम पर चुनाव(MCD) जीत रही है।’

सिसोदिया ने अगले ट्वीट में लिखा, ‘बीजेपी ने EVM पर सिर्फ रिसर्च नहीं की, बल्कि इनके नेता जीवीएल नरसिंहाराव और आडवाणी ने किताब भी लिखी, इनके नेता सुप्रीम कोर्ट भी गए थे।’

वहीं, तीसरे ट्वीट पर उन्होंने कहा कि, ‘EVM टैम्परिंग देश के लोकतंत्री की ऐसी कड़वी सच्चाई है जिसका शुरू में मजाक उड़ सकता है। लेकिन मजाक के डर से हम सच बोलना नहीं छोड़ सकते।’

गोपाल राय ने भी EVM पर उठाए सवाल

वहीं, सिसोदिया के अलावा आप के वरिष्ठ नेता और मंत्री गोपाल राय ने BJP की जीत को ‘EVM लहर’ करार दिया। उन्होंने कहा कि ‘BJP ने दस सालों तक MCD में भ्रष्टाचार किया है, यह मोदी लहर नहीं है, EVM लहर है।’ उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी उसके आगे बहुत छोटी चीज है, लोकतंत्र EVM में कैद हो गया है। यह लोकतंत्र के लिए बड़ा खतरा है।’

भगवंत मान ने साधा निशाना

इसके अलावा MCD चुनाव में खराब प्रदर्शन के बीच आम आदमी पार्टी के बड़े नेता भगवंत मान ने पार्टी के ही नेताओं को आड़े हाथ लिया है। पार्टी आलाकमान पर निशाना साधते हुए मान ने कहा कि चुनाव से पहले लिए गए कुछ फैसलों की वजह से पंजाब चुनाव में उनको और आम आदमी पार्टी को बड़ा नुकसान पहुंचा।

द ट्रिब्यून को दिए इंटरव्यू में मान ने कहा कि, ‘EVM में खामियां निकालने का फिलहाल कोई फायदा नहीं है, ऐसे में जब पार्टी आलाकमान ने चुनावों को लेकर अपनाई गई रणनीति में ऐतिहासिक गलती की है। पहले पार्टी को अपने अंदर झांकना चाहिए, ताकि उन कारणों का पता चल सके, जिसने आप को सत्ता में आने से रोक दिया।’

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here