MCD चुनाव: BJP के एक भी मुस्लिम प्रत्याशी को लोगों ने नहीं किया पसंद, सभी उम्मीदवार हारे

0

दिल्ली नगर निगम(MCD) चुनाव की तीनों निगमों (दक्षिणी दिल्ली, पूर्वी दिल्ली, उत्तरी दिल्ली) में आम आदमी पार्टी (AAP) और कांग्रेस को करारी शिकस्त देते हुए भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) प्रचंड जीत हासिल की है। तीनों नगर निगमों की 270 वार्डो पर हुए चुनाव के बुधवार(26 अप्रैल) को आए नतीजों में बीजेपी को 181 सीटें मिलीं, जबकि ‘आप’ 48 सीटों के साथ दूसरे और 30 सीटों के साथ कांग्रेस तीसरे पायदान पर खिसक गई।भाजपा

बीजेपी को इन चुनावों में मिली प्रचंड जीत में सभी वर्गो का भरपूर साथ मिला है, लेकिन इन चुनावों में बीजेपी को एक अलग तरह की हार का सामना करना पड़ा है। दरअसल, बीजेपी के सभी मुस्लिम उम्मीदवार इस चुनाव में हार गए हैं। पार्टी ने इस चुनाव में 5 मुस्लिम उम्मीदवार उतारे थे।

Also Read:  VIDEO: मध्यप्रदेश में BJP नेता ने कंट्रोल रुम में घुसकर पुलिसकर्मी को बेरहमी से पीटा

कुरैशी नगर से आम आदमी पार्टी की शाहीन ने बीजेपी की रूबीना बेगम को हरा दिया। जबकि, जाकिर नगर से कांग्रेस के शोएब दानिश ने बीजेपी के रफी उज्ज़मा को हरा दिया। वहीं, कांग्रेस के मोहम्मद इकबाल दिल्ली गेट से जीत गए और यहां भी बीजेपी उम्मीदवार फहीमुद्दीन को हार का सामना करना पड़ा।

Also Read:  देखिए: राज ठाकरे के पार्टी कार्यकर्ताओं की फिर गुंडागर्दी, फलवालोंं के साथ की मारपीट

इसके अलावा चौहान बांगर से ‘आप’ के अब्दुल रहमान ने बीजेपी के सरताज अहमद को हरा दिया, तो वहीं मुस्तफाबाद से कांग्रेस की परवीन ने बीजेपी की साबरा मलिक को हरा दिया। बता दें कि ये सभी सीटें मुस्लिम बहुल मानी जाती है।

बता दें कि पूर्वी दिल्ली(63 वार्ड) नगर निगम में बीजेपी ने 47, आप ने 11 और कांग्रेस ने 3 वार्ड जीते। वहीं, दक्षिणी दिल्ली(104 वार्ड) निगम में बीजेपी को 70, आप को 16 और कांग्रेस को 12 वार्डो पर जीत मिली। उत्तरी दिल्ली निगम(103 वार्ड) में बीजेपी ने 64, आप ने 21 और कांग्रेस ने 15 वार्ड जीते।

Also Read:  जनरल कमर जावेद बाजवा होंगे पाकिस्‍तान के नए सेनाध्यक्ष, नवाज़ शरीफ़ ने की नियुक्ति

वहीं, दो साल में ‘आप’ का वोट प्रतिशत आधा हो गया है। 2015 के विधानसभा में ‘आप’ को 54.3 फीसदी वोट मिले थे। लेकिन निगम चुनाव में 26.23 प्रतिशत मिले हैं। वहीं, कांग्रेस का वोट प्रतिशत बढ़ा है। विधानसभा चुनाव में उसे 9.7 फीसदी वोट मिले थे। जबकि, निगम चुनाव में पार्टी को 21.11 प्रतिशत वोट मिले हैं। वहीं, बीजेपी का वोट प्रतिशत 4 फीसदी बढ़ा है। उसे 36.18 फीसदी वोट मिले हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here