ट्विटर से मायावती ने योगी सरकार पर किया पहला वार, लिखा- “केवल संगम स्नान से सरकारों के पाप नहीं धुल सकते”

0

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री व बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की प्रमुख मायावती ने आगामी लोकसभा चुनाव से ठीक पहले सोशल मीडिया से दूरी ख़त्म करते हुए ट्विटर पर अपना आधिकारिक अकाउंट बना लिया है। ऐसे में अब मायावती ने ट्वीट के जरिए सियासी हमले भी करना शुरू कर दिया है। मायावती ने अपने ट्विटर से पहला हमला बीजेपी पर किया है।

मायावती

उत्तर प्रदेश सरकार के बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए मायावती ने योगी सरकार की आलोचना की है। बजट के बाद अपने ट्वीट में सरकार पर निशाना साधते हुए मायावती ने कहा कि केवल संगम स्नान से ही सरकारों के किए पाप नहीं धुलते और जनता अब सब समझती है। उन्होंने यह भी कहा कि बजट चाहे कितना भी लोक लुभावन हो, लेकिन असल में साल भर का जनहित कार्य और कानून व्यवस्था का विषय ही आम लोगों के लिए जरूरी होता है।

मायावती ने गुरुवार (7 फरवरी) को ट्वीट कर लिखा, “चुनावी वर्ष में बीजेपी सरकारों का बजट चाहे कितना भी लुभावना क्यों ना हो, वास्तव में सरकार का साल भर का जनहित व जनकल्याण एवं अपराध नियंत्रण व कानून-व्यवस्था का काम ही आमजनता के लिये महत्त्वपूर्ण होता है।”

इसके बाद उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा, “और इन मामलों में केन्द्र व खासकर उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार बुरी तरह से विफल साबित हुई है जो जगजाहिर है। केवल संगम स्नान से सरकारों के पाप नहीं धुल सकते। जनता बहुत होशियार है और सब जानती-समझती है।”

बता दें कि अभी हाल ही में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने मंत्रियों के साथ प्रयागराज में आयोजित कुंभ में लगाई आस्था की डुबकी लगाई थी। कुंभ स्नान की योगी आदित्यनाथ की कुछ तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थी। जिसमें वह कई मंत्रियों, साधू-संतों के साथ कुंभ में स्नान करते दिख रहे हैं।

बता दें कि बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की ओर से बुधवार को जारी एक बयान में कहा गया था कि मायावती ने पहली बार ट्विटर को संवाद का माध्यम बनाया है। इसके ज़रिए वह विभिन्न मुद्दों पर अपनी राय साझा करेंगी। ट्विटर द्वारा इसे वेरीफ़ाई किये जाने बाद पार्टी ने इसकी पुष्टि कर दी है। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता व बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद के आग्रह पर मायावती ने ट्विटर ज्वाइन किया है।

मायावती के इस फैसले से खुश होकर तेजस्वी ने उनका स्वागत किया और लिखा, ‘आखिरकार आपको यहां देखकर खुशी हुई। मुबारक हो कि आपने 13 जनवरी को लखनऊ में हमारी बैठक के दौरान ट्विटर से जुड़ने के मेरे अनुरोध को स्वीकार किया और सम्मानित किया।’

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here