मायावती ने जशोदाबेन के सहारे पीएम मोदी पर बोला हमला, कहा- ‘अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए बेकसूर पत्नी को छोड़ दिया’

0

बहुजन समाज पार्टी (BSP) की प्रमुख और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर उनकी पत्नी जशोदाबेन को लेकर निशाना साधा है। मायावती ने कहा कि भाजपा की महिला नेता उनके पतियों के पीएम मोदी से करीबी से घबराती हैं। उनका कहना है कि उन महिलाओं को डर है कि कहीं पीएम मोदी उन्हें भी अपनी पत्नी की तरह अपने पतियों से अलग ना करवा दें। साथ ही मायावती ने आरोप लगाया कि पीएम नरेंद्र मोदी ने राजनीतिक स्वार्थ की वजह से अपनी पत्नी जशोदाबेन को छोड़ दिया।

Mayawati

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक मायावती ने कहा, “मुझे तो ये भी मालूम चला है कि भाजपा में खासकर विवाहित महिलाएं अपने आदमियों को श्री मोदी के नजदीक जाते देखकर, यह सोच कर भी काफी ज्यादा घबराती रहती हैं कि कहीं ये मोदी अपनी औरत की तरह हमें भी अपने पति से अलग ना करवा दे।”

अलवर गैंगरेप मामले पर भी मायावती ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए आगे कहा, “नरेंद्र मोदी ने अलवर गैंगरेप मामले पर चुप्पी साधी हुई थी। वह इस मुद्दे पर गंदी राजनीतिक करने की कोशिश कर रहे हैं। यह बेहद शर्मनाक है। वह कैसे किसी की बहन और पत्नियों की इज्जत कर सकते हैं, जब उन्होंने राजनीतिक फायदे के लिए अपनी खुद की बेकसूर पत्नी (जशोदाबेन) को ही छोड़ दिया।”

दरअसल, शनिवार को प्रधाननमंत्री मोदी ने राजस्थान के अलवर में एक दलित महिला के साथ हुए सामूहिक बलात्कार की निंदा की थी और कहा था कि राजस्थान में कांग्रेस सत्ता में है और उसने अलवर में एक दलित महिला के साथ गैंगरेप की घटना को चुनाव तक दबाकर रखने की कोशिश की। इसे लेकर पीएम मोदी ने कहा था कि मायावती को कांग्रेस की सरकार से समर्थन वापस लेना चाहिए।

वहीं, मायावती ने इस मामले को लेकर पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि इनको किसी भी पार्टी और नेता को अलवर में दलित महिला उत्पीड़न की अति शर्मनाक और अति घृणित घटना को लेकर कोई भी सलाह देने का नैतिक अधिकार नहीं रहा है। सोमवार को प्रेस कॉन्फेंस के दौरान मायावती ने कहा कि दलित समाज के लोग अभी तक रोहित वेमुला, उना कांड आदि को भूले नहीं हैं।

मायावती ने कहा कि राजस्थान के अलवर की घटना पर पीएम नरेंद्र मोदी मेरे बोलने से पहले चुप ही थे। अब राजनीति करने से बाज नहीं आ रहे हैं। मायावती ने कहा कि मेरा पूरे देश की महिलाओं से ये अपील है कि वे इन्हें वोट न दे। इससे पहले मायावती ने रविवार को भी पीएम पर निशाना साधा था। मायावती ने कहा था कि पीएम मोदी ने नया चुनावी शिगूफा छोडा है कि उनकी जाति वही है, जो गरीब की जाति है।

बीजेपी ने भी फौरन पलटवार करते हुए मायावती को आड़े हाथ लिया है। बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने ट्वीट कर मायावती को परिवारवाद पर घेरते हुए कहा, “मायावती जी को TV पर सुन रहा था ..जिन शब्दों का प्रयोग उन्होंने PM के लिय किया …बहुत तकलीफ़ होती है ..आख़िर ये कैसी सोच है? …मोदी जी से इतनी घृणा? ..क्यों? ..अपने परिवार से ज़्यादा देश को परिवार माना इसलिए? ..मायावती जी आपके लिए आपका भाई बड़ा है ..मोदी जी के लिए देश बड़ा है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here