मथुरा पुलिस को मिली कामयाबी, ज्वैलर्स हत्याकांड में 5 दिन बाद मुख्य आरोपी समेत छह गिरफ्तार

0

उत्तर प्रदेश के मथुरा में सोमवार(15 मई) रात दो सराफा व्यापारियों की हत्या और दुकान से करोड़ों की हुई लूट मामले में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस ने होलीगेट की सराफा दुकान में हुई इस वारदात के मुख्य आरोपी समेत 6 बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है।बता दें कि इस घटना के बाद से राज्य में कानून व्यवस्था को लेकर योगी सरकार पर सवाल उठने शुरू हो गए थे। सीएम योगी के एक्शन के बाद सभी आरोपी पुलिस की रडार पर थे। इस मामले पर पूरे सूबे में सड़क से लेकर सदन तक हंगामा जारी था। हालांकि, अब पुलिस ने दावा किया है कि इस हत्याकांड को सुलझा लिया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, एसएसपी विपिन कुमार मिश्रा ने बताया कि शनिवार(20 मई) तड़के 5 बजे बदमाशों के साथ पुलिस का मुठभेड़ हुआ, जो करीब 6.30 बजे सुबह तक चला है। इसके बाद पुलिस ने रंगा बिल्ला और चीमा सहित इस हत्याकांड के छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

इस मुठभेड़ में सात पुलिसकर्मी जख्मी हो गए हैं। वहीं, दोनों तरफ से चली गोलीारी में दो बदमाश द घायल हो गए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। साथ ही पुलिस की टीम ने बदमाशों द्वारा लूटी गई ज्वैलरी भी बरामद कर ली है। बता दें कि इससे पहले पुलिस ने 20 अपराधियों को हिरासत में लिया था। उनसे पूछताछ और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बदमाशों की पहचान हो पाई थी।

बता दें कि इस घटना पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस महानिदेशक से गहरी नाराजगी व्यक्त की है और घटना की जांच के आदेश दिए हैं। सीएम के निर्देश के बाद बुधवार(17 मई) को यूपी सरकार में मंत्री श्रीकांत शर्मा और डीजीपी सुलखान सिंह पीड़ित परिवार से मिलने मथुरा पहुंचे।

क्या है पूरा मामला?

गौरतलब है कि मथुरा में सोमवार(15 मई) रात भीड़ भरे बाजार में आधा दर्जन बदमाशों ने सरेआम एक सर्राफा की दुकान पर धावा बोलकर लाखों के जेवरात लूट लिए। इस घटना में दो व्यापारियों की मौत हो गई, जबकि दो गंभीर रूप से घायल हैं। शहर के प्रमुख बाजार होलीगेट के पास हथियारबंद बदमाशों ने मयंक ज्वैलर्स पर उस समय हमला कर दिया जब व्यापारी दुकान बंद करने की तैयारी कर रहे थे। यह पूरी वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है।वीडियो में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि बीच बाजार में स्थित सर्राफा व्यापारी मयंक अग्रवाल की दुकान को लूटने करीब आधा दर्जन हथियारबंद लुटेरे पहुंचे। लूट का विरोध करने पर बेखौफ बदमाशों ने चार लोगों को गोली मार दी, जिनमें से दो की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि अन्य दो लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं।

मृतकों में दुकान मालिक विकास अग्रवाल (30) और डैम्पीयर नगर निवासी मेघ अग्रवाल (34) शामिल हैं। वहीं, विकास अग्रवाल के छोटे भाई मयंक अग्रवाल, दुकान के कारीगर अशोक साहू और महमूद अली का इलाज चल रहा है।

(देखें हत्याकांड का वीडियो)

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here