VIDEO: सांत्वना देने गए BJP विधायक पर फूटा लोगों का गुस्सा़, जान बचाकर भागते नेता जी वीडियो हुआ वायरल

0

ताओं के प्रति लोगों के अंदर व्याप्त आक्रोश का एक ताजा उदाहरण मथुरा में देखने को मिला जहां एक दंपति की नहर में डूबने से हुई मौत के बाद बीजेपी विधायक सांत्वना देने गए तब लोगों ने उन्हें घेर लिया बढ़ते गुस्से को देखकर नेता जी ने वहां से फौरन भाग निकलने में ही भलाई समझी क्यांेकि वह समझ गए कि लोग इतने गुस्से में दिख रहे है कि थोड़ी देर और रूके तो पीट जाएगें।इसके बाद बीजेपी विधायक तेजी से भाग निकले लेकिन लोगों ने पीछा किया और उनकी गाड़ी की जबरदस्ती चाबी निकाल ली।

मामला मथुरा के फरह-बेरी मार्ग स्थित क्षतिग्रस्त धर्मपुरा पुलिया की घटना का है जहां बाइक से गुजरते समय शनिवार की दोपहर पुलिया के जर्जर होने की वजह से बाइक सवार पूरे परिवार समेत रजबाहें में गिर गया। जिसमें बाइक सवार दंपति, दो साल का बेटा और छह साल की भांजी पानी में डूब गए।

महिला और उसके बेटे के शव को तो बरामद कर लिया गया लेकिन युवक और उसकी भांजी का अभी तक सुराग नहीं लगा है। प्रशासनिक मदद न मिलने से गुस्साई भीड़ ने मौके पर पहुंचे विधायक पूरनप्रकाश पर हमला कर दिया। सुरक्षा कर्मी के साथ भी मारपीट हुई। करीब दो घंटे तक बवाल होता रहा।

आपको बता दे कि बीजेपी के बल्देव से विधायक पूरन प्रकाश के साथ यह घटना तब प्रकाश में आई जब वह नहर में डूबकर मरने की सूचना पर गांव के लोगों को सांत्वना देने पहुंचे थे। लोगों का कहना था कि विकास या किसी कार्य के लिए तो यह नेता आते नहीं और अपनी राजनीति करने यहां पहुंच जाते है। लोगों ने वहां बीजेपी विधायक के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे भी लगाए।

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक लोगों ने बताया कि हादसे के बाद कोई भी सरकारी मशीनरी मौके पर नहीं पहुंची। इससे गुस्साएं लोगों ने विधायक की हूटिंग कर दी। उनके पक्ष में बोल रहे एक व्यक्ति को दलाल कहा। विधायक ओर लोगों के बीच कहासुनी भी हुई। अंततः विधायक वहां से भागना पड़ा।

इस हादसें में मारे गए दंपत्ति भरतपुर से आए थे। नहर के पानी में से निकाली गई सीडी डीलक्स मोटर साइकिल संख्या RJ-05 SJ- 5531 गाड़ी के नंबर के अनुसार भरतपुर आरटीओ से पुलिस और स्थानीय लोगों ने नंबर ट्रेस करके पता लगाया। मोटर साइकिल राजू पुत्र भरत सिंह निवासी धीमर मोहल्ला, थाना चिकसाना, भरतपुर की थी। राजू से संपर्क करने पर पता चला कि चिकसाना थाना अंतर्गत ही ठेई गांव निवासी सलमू (22 वर्षीय) अपनी पत्नी हसीना और अपने दो वर्षीय पुत्र फैज के साथ बाइक से अपनी रिश्तेदारी हाथरस के पास जरिया गाँव किसी कार्यक्रम में जा रहा था जब यह घटना हुई।

विधायक पूरन प्रकाश का कहना है कि भीड़ ने उन पर हमला किया है। देर रात तक सलमू और भांजी जिहाना का कोई सुराग नहीं लग सका है।   एसएसपी मथुरा स्वप्निल ममगाई ने कहा कि ‘भाजपा विधायक पूरन प्रकाश उनसे मिलने के लिए आए थे। फरह के गांव धर्मपुरा में उनके साथ जो घटना हुई थी उससे अवगत कराया। अगर विधायक तहरीर देंगे तो मुकद्दमा दर्ज किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here