मसान के निर्देशक ने राष्ट्रीय पुरस्कार में मिली राशि सूखे के लिए दान की

0

आज सुबह नीरज घेवान और वरुण ग्रोवर ने सोशल मीडिया के माध्यम से अनाउंस किया है कि वो नेशनल फिल्म अवार्ड में साथ मिली पुरस्कार राशि महाराष्ट्र में सूखे की स्थिति को देखते हुए किसानों की मदद के लिए डोनेट कर रहे हैं।
var-neer-1

नीरज ने अपनी फेसबुक पर लिखा, ‘नेशनल अवार्ड मिलने पर आपने जो प्यार दिया उसका शुक्रिया। मैंने और वरुण ग्रोवर ने तय किया है कि हम नेशनल अवार्ड प्राइज मनी महाराष्ट्र में परेशानहाल किसानों की मदद के लिए डोनेट करेंगे। मैं कुल 1.25 लाख रुपए में से 50, 000 दे रहा हूं और वरुण भी इतना ही पैसा देंगे। दोनों मिलकर एक लाख रुपए सहायता में देंगे।

सच है कि यह बहुत ही छोटी रकम है और कोई मदद नहीं, लेकिन मेरी इसे पब्लिक करने की वजह यही कोशिश है कि इस बहाने हमारा ध्यान महाराष्ट्र की मौजूदा कृषि समस्या और गंभीर पानी के संकट की ओर जाए। शायद इससे और लोग भी मदद का हाथ बढ़ाएं और प्रेरित हों, या कम से कम इस बहाने संकट को जानें।’

महाराष्ट्र में सूखे की समस्या एक राष्ट्रीय समस्या बनकर उभरी है जिसका विकराल चेहरा इस बात से समझा जा सकता है कि इस समस्या से निजात पाने के लिये वहां के परिवार अपने लड़कियों तक को बेच रहे हैं। ऐसे में नीरज घेवान और वरूण ग्रोवर ने जो अपनी राशी डोनेट करने का मन बनाया वो सबके लिये एक प्रेरणा हैं।

नीरज घेवान और वरुण ग्रोवर ने मिलकर पिछले साल की शानदार हिन्दी फिल्म मसान बनाई है। वरुण मसान के लेखक हैं और नीरज घेवान निर्देशक। यह फिल्म दुनिया के सबसे बड़े सिनेमा मेले ‘कान फिल्म फेस्टिवल’ के विशेष खंड ‘अन सर्टेन रिगार्ड’ में चुनी गई और दोहरे पुरस्कारों की विजेता बनी। जबकि भारत में इस फिल्म को कुछ खास रिस्पांस नहीं दिया गया लेकिन आलोचकीय स्तर पर फिल्म ने काफी तारीफें बटोरीं।

LEAVE A REPLY