VIDEO: CM विजय रूपाणी के बाद अब PM मोदी की रैली में शहीद के परिवार का हुआ अपमान, BSF जवान की बहन को पुलिसकर्मियों ने घसीटकर सभा से किया बाहर

0

गुजरात में एक रैली के दौरान राज्य के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के सामने ही शहीद बीएसएफ जवान की बेटी को पुलिसकर्मियों द्वारा घसीटकर सभा से बाहर करने का मामला अभी ठंडा ही नहीं हुआ कि अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में भी कथित तौर पर शहीद के परिवार का अपमान किए जाने का मामला सामने आया है। पीएम मोदी की रैली में पहुंचीं शहीद की बहन को कथित तौर पर रैली से बाहर कर दिया गया।

PHOTO: TOI/Business Standard

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात विधानसभा चुनाव में जुटे पीएम मोदी की रविवार (3 नवंबर) को सुरेंद्रनगर रैली में जम्मू-कश्मीर में शहीद बीएसएफ जवान बशीर अहमद मुतानी की बहन नसीम मुतानी को पुलिसकर्मियों ने जनसभा से बाहर कर दिया। बताया जा रहा है कि शहीद जवान की बहन राज्य सरकार की ओर से सहायता के रूप में जमीन और पेट्रोल पंप चेक नहीं मिलने से नाराज थीं।

शहीद की बहन पीएम मोदी से मिलकर पूछना चाहती थीं कि राज्य सरकार द्वारा उनके परिवार को अभी तक मुआवजा क्यों नहीं दिया गया है। लेकिन सुरक्षाकर्मियों द्वारा मिलने नहीं देने के बाद रैली में राज्य सरकार की उदासीनता को लेकर शहीद की बहन हंगामा करने लगीं। नसीम रैली में ही अपनी समस्या को लेकर जोर-जोर से चिल्नाने लगी। जिसके बाद वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने शहीद की बहन को जनसभा से बाहर कर दिया।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक शहीद की बहन नसीम रैली में उपस्थित मीडियाकर्मियों से बात करते हुए कहा कि, “मैंने जिला कलेक्टर और मुख्यमंत्री विजय रूपाणी को इस बारे में अवगत करा दिया है, लेकिन आज तक मेरे परिवार को एक शहीद के परिवार का अधिकार नहीं मिला है।”

उन्होंने कहा कि मैं यहां आवेदन की एक प्रति के साथ प्रधानमंत्री से मिलने आई हूं।  मैं प्रधानमंत्री से पूछना चाहती हूं कि एक शहीद के परिवार को वित्तीय मदद से वंचित क्यों किया गया है।” बता दें कि पांच साल पहले 2012 में जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों से लोहा लेते हुए भारतीय सेना के जवान (BSF) बशीर अहमद शहीद हो गए थे।

‘रूपाणी के सामने ही शहीद की बेटी को घसीटकर सभा से बाहर कर दिया गया’

बता दें कि यह पहला मामला नहीं है जब किसी शहीद के परिवार ने राज्य सरकार की उदासिनता को लेकर विरोध पर उतर आई हो। इससे पहले राज्य के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी की रैली में भी ऐसा ही मामला सामने आया था। सीएम रूपाणी के सामने ही शहीद बीएसएफ जवान की बेटी को पुलिसकर्मियों ने घसीटकर सभा से बाहर कर दिया। मंच के नीचे उस लड़की के साथ पुलिस ऐसे पेश आई जैसे वो कोई उपद्रवी हो।

ये सब मुख्यमंत्री के सामने हो रहा था और वहां पर उन्होंने उसे रोकने के बजाय उसे शांति से बाहर ले जाने के लिए कहते दिखे। शहीद के बेटी पिछले कई सालों से इस बात को लेकर प्रदर्शन कर रही है कि उसके पिता अशोक तडवी के शहीद होने के बाद सरकार ने जो जमीन देने का कथित रूप से वादा किया था वह आज तक पूरा नहीं किया। शहीद की बेटी को पुलिस कर्मियों द्वारा ले जाने के दौरान बचने के लिए संघर्ष करने का वीडियो वायरल हो गया है।

गुजरात: CM विजय रूपाणी के सामने हुआ शहीद की बेटी का अपमान

गुजरात: CM विजय रूपाणी के सामने हुआ शहीद की बेटी का अपमान, पुलिस ने घसीटकर सभा से किया बाहर

Posted by जनता का रिपोर्टर on Friday, 1 December 2017

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here