VIDEO: शहीद CRPF जवान की मां ने पाकिस्तान पर किए गए एयरस्ट्राइक पर उठाए सवाल, बोलीं- खाली घरों पर हुई बमबारी

0

भारत ने मंगलवार (26 फरवरी) तड़के पाकिस्तान के भीतर हवाई हमले कर कई आतंकवादी शिविरों को निशाना बनाया। भारतीय वायुसेना के जवानों ने एलओसी के पार जाकर आतंकी कैंप पर हमला बोला और उनके कई आतंकवादी कैंपों को ध्वस्त कर दिया है। वायुसेना की इस कार्रवाई के बाद जहां पूरा देश खुशी मना रहा है, वहीं एक शहीद की मां ने इस पर सवाल उठाया है।

भारतीय वायुसेना

पुलवामा आतंकी हमले का शिकार हुए सीआरपीएफ जवान प्रदीप कुमार की मां ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि मैं इस कार्रवाई से बिल्कुल संतुष्ट नहीं हूं। मेरा बेटा शहीद हो गया है, कई माताओं ने अपने बेटों को खो दिया है। मैं बिल्कुल भी संतुष्ट नहीं हूं।

उन्होंने आगे कहा कि, खाली घरों पर ही बम गिराए गए। हमे बदला चाहिए। जैसे हमारे जवानों के शव दिखे वैसे ही आतंकियों के शव दिखने चाहिए। उन्होंने आतंकवादियों का एक भी शव नहीं दिखाया है। मैं इसे अपनी आंखों से देखना चाहती हूं।

वहीं, शहीद सीआरपीएफ जवान प्रदीप कुमार की पत्नी शर्मिष्ठा देवी ने कहा है, जो कुछ भी हुआ हम उससे संतुष्ट नहीं हैं। जब पुलवामा अटैक हुआ तो हर किसी ने हमारे जवानों के शव देखे। अटैक के साफ सबूत हैं, लेकिन हम एयर स्ट्राइक का सिर्फ दावा कर रहे हैं। प्रदीप कुमार यूपी के शामली जिले के रहने वाले थे। वह 21 बटालियन में कॉन्स्टेबल थे।

शहीद जवान की मां का यह वीडियो अब सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर तेजी से वायरल हो गया है। वहीं, लोग इस वीडियो पर अपनी प्रतिक्रिया भी जमकर दे रहें है। लोगों का कहना है कि इस शहीद की माँ को ‘देशद्रोही’ बताने से पहले शहीदों के परिवारों के जज़्बातों को समझने की कोशिश करना। उनकी पीढ़ा हम सबसे ज़्यादा है।

भारत के विदेश सचिव विजय गोखले ने मंगलवार को बताया कि भारतीय वायु सेना ने मंगलवार को तड़के सीमापार स्थित आतंकी गुट जैश ए मोहम्मद के ठिकाने पर बड़ा एकतरफा हमला किया जिसमें बड़ी संख्या में आतंकवादी, प्रशिक्षक, शीर्ष कमांडर और जिहादी मारे गए। विदेश सचिव ने संवाददाताओं को बताया कि पाकिस्तान स्थित आतंकी गुट जैश ए मोहम्मद के बालाकोट में मौजूद सबसे बड़े प्रशिक्षण शिविर पर खुफिया सूचनाओं के बाद की गई यह कार्रवाई जरूरी थी क्योंकि आतंकी संगठन भारत में और आत्मघाती हमले करने की साजिश रच रहा था।

खबरों के मुताबिक, वायुसेना के मिराज लड़ाकू विमानों ने पाकिस्तानी सीमा में घुसकर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर बमबारी की। यह कार्रवाई पुलवामा आतंकी हमले के जवाब में कई गई है। भारत द्वारा यह हवाई हमला जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आत्मघाती हमले के 12 दिन बाद किया गया है। 12 दिन पहले जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर किए गए आत्मघाती हमले में बल के 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी जैश ए मोहम्मद ने ली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here