मोदी सरकार की आय घोषणा योजना में और भी खांमियां, 65000 करोड़ रुपये की आईडीएस में 13860 करोड़ रुपये का सुराख : चिदंबरम

0

कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने मोदी सरकार की आय घोषणा योजना (आईडीएस) के बारे में सवाल उठाते हुए कहा कि इस योजना में ‘और खामियां’ हो सकती हैं।

उन्होंने यह बयान कुछ दिन पहले 13860 करोड़ रुपये की अघोषित आय की घोषणा करने वाले अहमदाबाद के रियल इस्टेट कारोबारी महेश शाह के आए नए दावे की पृष्ठभूमि में दिया है जिसमें उन्होंने कहा कि पैसा उनका नहीं बल्कि अन्य लोगों का है।

Also Read:  गोरखपुर हादसा: मासूम बच्चों की मौत पर PM मोदी ने तोड़ी चुप्पी, लेकिन खुलकर नहीं किया जिक्र

P Chidambaram

Congress advt 2

चिदंबरम ने ट्वीट किया, ‘‘65000 करोड़ रुपये की आईडीएस में 13860 करोड़ रुपये का सुराख है. और कितने सुराख होंगे.’’ कुछ दिन पहले 13860 करोड़ रुपये की अघोषित आय की घोषणा करने वाले अहमदाबाद के रियल इस्टेट कारोबारी महेश शाह कल एक टेलीविजन शो में आये और उन्होंने दावा किया कि वह केवल दूसरों की रकम का चेहरा मात्र हैं। शाह के इस दावे के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री का बयान आया है।

Also Read:  'जब कोई जज बने तो उसे ट्रेनिंग देने के लिए चिड़ियाघर भी ले जाया जाए'

भाषा की खबर के अनुसार, शाह ने टीवी चैनल से कहा था कि उनके पास कालाधन नहीं था और उन्होंने कुछ भारतीयों की अघोषित पूंजी की घोषणा की थी. उन्होंने कहा कि वह आयकर विभाग से संपर्क करेंगे और उन लोगों के नाम देंगे जिन्होंने उन्हें इस बात के लिए मनाया कि उनकी बेहिसाब रकम को अपनी बताएं।

Also Read:  मोदी सरकार ने रद्द किए 20,000 NGO के FCRA लाइसेंस, केवल 13 हजार को ही मान्यता

शाह जैसे ही चैनल पर दिखाई दिये, कुछ ही देर में आयकर अधिकारी उन्हें पूछताछ के लिए स्थानीय चैनल के दफ्तर से ले गए। उन्हें वरिष्ठ आयकर अधिकारियों की रात भर चली पूछताछ के बाद रविवार की सुबह घर जाने दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here