मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप कांड: नीतीश कैबिनेट की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा और उनके पति के खिलाफ केस दर्ज, छापेमारी में मिले 50 कारतूस

0

बिहार के मुजफ्फरपुर के ‘बालिका गृह’ नाम के नारी निकेतन में 34 मासूम बच्चियों के साथ दरिंदगी के मामले ने तूफान मचा रखा है। इस रेप कांड में घिरीं नीतीश सरकार के पूर्व समाज कल्याण विभाग मंत्री मंजू वर्मा पर शिकंजा कसता जा रहा है। इस मामले में मंजू वर्मा और उनके पति चंद्रशेखर वर्मा के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है। बता दें कि बालिका गृह रेप केस में पति चंद्रशेखर वर्मा का नाम जुड़ने के बाद जनता दल यूनाइटेड नेता और नीतीश कुमार कैबिनेट में समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा को इस्तीफा देना पड़ा था।

(PTI File Photo)

शेल्टर होम में लड़कियों के साथ दरिंदगी के मामले में बिहार की पूर्व समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा के ससुराल में सीबीआई छापे के दौरान 50 कारतूस मिले हैं। इसके बाद मंजू वर्मा और उनके पति चंद्रेश्वर वर्मा के खिलाफ आर्म्स ऐक्ट में प्राथमिकी दर्ज की गई है। बता दें कि चंद्रेश्वर वर्मा पर मामले के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के साथ कथित संबंध होने के आरोप हैं।

दरअसल, समाचार एजेंसी पीटीआई/भाषा के मुताबिक सीबीआई ने शुक्रवार को वर्मा के पटना स्थित आवास और उनके बेगूसराय स्थित ससुराल समेत राज्य के चार जिलों में उनके करीब 12 ठिकानों पर छापे मारे थे। चेरिया बरियारपुर थाने के प्रभारी रंजीत कुमार रजक ने कहा कि छापे के दौरान वर्मा के अर्जुन टोला स्थित ससुराल पक्ष के घर से 50 कारतूस मिलने के बाद उनके और पति चंद्रशेखर के खिलाफ शनिवार को मामला दर्ज किया गया।

पुलिस ने बताया कि ये कारतूस अलग-अलग हथियारों के हैं। रजक ने कहा कि सीबीआई के एक अधिकारी ने दंपती के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी। हालांकि उन्होंने अधिकारी का नाम नहीं बताया। गौरतलब है कि विपक्ष के चौतरफा हमले से घिरी नीतीश सरकार में समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा ने पिछले हफ्ते इस्तीफा दे दिया था।

मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर ने इस कांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर से इस साल जनवरी से जून के बीच 17 बार बात की थी। इस मामले के सामने आने के बाद ही चंद्रेश्वर पर सीबीआई का शिकंजा कसना शुरू हुआ है। उधर, मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर ने जेल में अपनी जान को खतरा बताया है। ब्रजेश ठाकुर ने आरोप लगाया है कि उसे जेल में उसे बागी माओवादियों के साथ रखा गया है।

बता दें कि ब्रजेश को मुजफ्फरपुर की उच्च सुरक्षा वाली जेल बैरक में शिफ्ट किया गया है। इससे पहले ब्रजेश ठाकुर स्वास्थ्य वजहों को ढाल बनाकर जेल के अंदर अस्पताल के वॉर्ड नंबर 8 में भर्ती था। हेल्थ रिपोर्ट के मुताबिक ब्रजेश की बीमारियां और स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतें अब नियंत्रण में हैं। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने मुजफ्फपुर शेल्टर होम रेप केस की जांच पूरी तरह से अपने हाथ में ले ली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here