CBSE Board Exams: उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया बोले- “10 व 12वीं की बची हुई परीक्षाएं कराना अभी सम्भव नहीं, इंटरनल नंबरों के आधार पर पास किए जाएं स्‍टूडेंट”

0

कोरोना वायरस के चलते सभी स्कूल और कॉलेज बंद है। वहीं, केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) की परीक्षाएं भी कोरोना लॉकडाउन के चलते स्थगित कर दी गई हैं। ऐसे में स्टूडेंट्स बेसब्री से बोर्ड परीक्षाओं की नई तारीखों का इंतजार कर रहे हैं। इस बीच, बोर्ड की परीक्षाएं को लेकर आम आदमी पार्टी (आप) के वरिष्ठ नेता और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बड़ा बयान दिया है।

Representational image

मनीष सिसोदिया ने मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल से कहा है कि कोरोना वायरस से पनपे मौजूदा हालातों में 10वीं और 12वीं के पेंडिंग बोर्ड एग्जाम आयोजित करना संभव नहीं है। मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि, “आज केंद्रीय मानव संसाधन विकासमंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशंक जी के साथ देश के अन्य शिक्षामंत्रियों की चर्चा में शामिल होकर दिल्ली की तरफ़ से निम्न मुद्दे रखे- CBSE की 10 व 12वीं की बची हुई परीक्षाएँ कराना अभी सम्भव नहीं होगा अतः इंटरनल नंबरों (internal exams) के आधार पर ही बच्चों को पास किया जाय जैसा कि 9 वीं और 11वीं के बच्चों को पास किया गया है।”

मनीष सिसोदिया ने आगे कहा कि, “अगले वर्ष के लिए समूचे पाठ्यक्रम में कम से कम 30% की कमी की जाए और JEE, NEET तथा अन्य उच्च शिक्षा संस्थानों की प्रवेश परीक्षाएँ भी कम किए गए पाठ्यक्रम के आधार पर ही ली जाएँ।” साथ ही उन्होंने कहा कि, “दिल्ली सरकार ने दूरदर्शन और AIR FM पर रोज़ाना तीन तीन घंटे के समय की माँग की है ताकि दिल्ली सरकार के शिक्षक सभी बच्चों के लिए onair क्लास चला सकें।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here