मणिपुर: स्टिंग ऑपरेशन में फंसे BJP उम्मीदवार,मतदाताओं को खरीदने की बना रहे थे योजना

0

आने वाले कुछ दिनों में मणिपुर में विधानसभा चुनाव होने वाले है। ऐसे में हर पार्टी अपनी जीत के लिए कमर तोड़ तैयारियां कर रही है। लेकिन, राजनीति में हर पार्टी अपने आप को ईमानदार और दूसरी को भ्रष्टाचारी बताने से नहीं चूकती है। ताजा मामला मणिपुर का है, जहां बीजेपी के उम्मीदवार का स्टिंग ऑपरेशन सामने आया है।

स्टिंग ऑपरेशन में फंसे BJP उम्मीदवार

इंडिया टुडे द्वारा किए गए स्टिंग ऑपरेशन में मणिपुर बीजेपी के उम्‍मीदवार वोबा जोराम कैमरे पर बताते हैं कि कैसे उन्‍होंने चुनाव जीतने के लिए अपने क्षेत्र में वोटरों के बीच रुपए बांटने की योजना बना रखी है। इस स्टिंग में बीजेपी उम्मीदवार को वोटों के बदले पैसों की बात कहते सुना गया है। बता दें कि, पिछले साल तृणमूल कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले जोराम को इस बार बीजेपी ने सेनापति जिले की माओ विधानसभा सीट से टिकट दिया है। चुनाव आयोग द्वारा मणिपुर में हर उम्‍मीदवार द्वारा चुनावी खर्च की सीमा 20 लाख रुपए तय की गई है।

स्टिंग में जोराम कहते दिखते हैं, उन्‍होंने ‘अपने प्रचार पर 1.02 करोड़ रुपए पहले ही खर्च कर दिए हैं। अगर मेरे पास दो करोड़ हैं तो मैं जीत जाऊंगा, मैं पक्‍का जीतूंगा। चार से पांच करोड़ में हो जाएगा, इतना ही लगेगा। इतना ही नही वो यह कहते हुए भी दिख रहे है कि, पिछली बार (2012) में चार करोड़ लगे थे, 2007 में तीन करोड़। अब ज्‍यादा खर्चा होने लगा है। इस बार पक्‍का 5 करोड़ हो जाएगा।”

 

 

बता दें कि, जब जोराम से यह पूछा गया कि इतना पैसा इस्‍तेमाल कहां किया जाएगा, तो उनहोंने बताया कि इसका ज्‍यादातर हिस्‍सा प्रचार और गांववालों को कैश देकर रुपए खरीदने में होता है। स्टिंग में उन्‍होंने कहा, ”खर्च ज्‍यादातर गाड़‍ियों पर होता है। हम 60 कारें लगाएंगे। वैसे, हमें सिर्फ 5 का परमिशन है। हम हर गांव के मुखिया को 15-20 लाख रुपए देंगे। बदले में, वे गांववालों को भरोसे में लेकर हर घर में 2000-3000 देंगे। हमें वोट खरीदने ही होंगे।” मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, चैनल के स्टिंग का संज्ञान लेते हुए चुनाव आयोग ने बीजेपी उम्‍मीदवार को आचार संहिता के उल्‍लंघन पर नोटिस जारी किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here