कठुआ गैंगरेप-हत्या मामले में केंद्रीय मंत्री वीके सिंह के बाद अब मेनका गांधी ने तोड़ी चुप्पी

0

जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में एक नाबालिग मासूम बच्ची के साथ हुए गैंगरेप और हत्या का मामला भारत सहित पूरे विश्व में लगातार तूल पकड़ता जा रहा है।

बता दें कि, कठुआ के हीरानगर तहसील के रसाना गांव में इसी साल की शुरूआत में जनवरी महीने में आठ साल की बच्ची आसिफा का अपहरण कर उसके साथ एक मंदिर में सामूहिक दुष्कर्म किया गया और फिर उसकी जघन्य तरीके से हत्या कर दी गई। बच्ची के साथ दरिंदगी और हत्या के मामले में स्थानीय लोगों समेत अब तमाम बड़ी हस्तियों का भी गुस्सा देखने को मिल रहा है।

देश भर में आरोपियों को कठोर सजा देने के मांग को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन के बीच महिला और बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि, सरकार पॉक्सो ऐक्ट में संशोधन करने के लिए कैबिनेट की बैठक में प्रस्‍ताव लाएगी। इस संशोधन के मुताबिक, 12 साल से कम उम्र की बच्ची से रेप के मामले में मौत की सज़ा का प्रावधान रखा जाएगा।

हिन्दुस्तान.कॉम की ख़बर के मुताबिक, केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने शुक्रवार(13 अप्रैल) को कहा कि प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रेन फ्रॉम सेक्सुअल ऑफेंस (पॉस्को) एक्ट में सुधार लाने का विचार कर रही हैं। वर्तमान में नाबालिग के साथ वहशियानापन तरीके से पेश आने और उसके साथ बलात्कार पर पॉस्को एक्ट के तहत उम्रकैद तक का प्रावधान है।

मेनका ने कहा- मैं कठुआ और हाल में बच्चियों के साथ हुए रेप केस को लेकर काफी दुखी हूं। मैं और मंत्रालय का यह विचार है कि पोस्कॉ एक्ट में संशोधन किया जाए ताकि 12 वर्ष से कम उम्र की बच्चियों के साथ बलात्कार पर उन्हें मौत की सज़ा दी जा सके।

बता दें कि, इससे पहले केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने गुरुवार को ट्वीट करते हुए लिखा था कि, ‘आसिफा के लिए हम इंसान के तौर पर नाकाम रहे, लेकिन उसे न्याय जरूर मिलेगा।’

बता दें कि, इससे पहले अभिनेता कमल हासन ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि, ‘इसे समझने के लिए उसे आपकी बेटी होना चाहिए। वह मेरी बेटी हो सकती है।’

समाचार एजेंसी भाषा की ख़बर के मुताबिक, हासन ने मक्कल निधि मय्यम नाम से राजनीतिक पार्टी का गठन किया है। उन्होंने कहा कि एक व्यक्ति और पिता के तौर वह गुस्से में हैं जबकि एक नागरिक के तौर पर वह नाबालिग बच्ची के लिए कमजोर महसूस कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, ‘मेरी बच्ची मुझे माफ करना। हम आपके लिए इस देश को पर्याप्त सुरक्षित नहीं बना सके। मैं आपके जैसे भविष्य के बच्चों के लिए कम से कम न्याय के लिए तो लड़ूंगा। हमें आपके के लिए पीड़ा है और आपको नहीं भूलेंगे।’ बता दें कि, कठुआ में बच्ची से बलात्कार की घटना को लेकर देशभर में रोष है।

बता दें कि, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार (12 अप्रैल) को उत्तर प्रदेश के उन्नाव रेप मामले और जम्मू-कश्मीर के कठुआ में 8 साल की नन्ही बच्ची से गैंगरेप और उसकी नृशंस हत्या के विरोध में नई दिल्ली के इंडिया गेट पर कैंडल मार्च निकाला था।

कैंडल मार्च में राहुल गांधी के साथ प्रियंका गांधी और उनके पति रॉबर्ट वाड्रा भी मार्च में शामिल हुए हैं। उनके अलावा कांग्रेस पार्टी के कई बड़े नेता भी कैंडल मार्च में शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here