नालंदा के बाद अब अररिया में भी मॉब लिंचिंग: पशु चोरी के शक में बुजुर्ग काबुल की पीट-पीटकर हत्या, 72 घंटे के अंदर ‘नीतीश राज’ में भीड़ ने ले ली तीन लोगों की जान

0

बिहार में आए दिन मॉब लिंचिंग और अपराध की सनसनीखेज घटनाओं ने ये सवाल खड़ा कर दिया है कि क्या नीतीश-मोदी सरकार बनने के बाद बिहार में फिर से जंगलराज लौट आया है? यह सवाल इसलिए उठ रहा है, क्योंकि बिहार में पिछले 72 घंटों के अंदर मॉब लिंचिंग की तीसरी वारदात सामने आई है। 72 घंटे के अंदर नालंदा और अररिया में भीड़ तंत्र ने पीट-पीटकर तीन लोगों की हत्या कर दी है।

PHPTO: NDTV

बिहार के अररिया जिले में जहां शनिवार यानी 29 दिसंबर की रात एक बुजुर्ग की भीड़ द्वारा हत्या कर दी गई। वहीं, नव वर्ष के दूसरे दिन बुधवार यानी 2 जनवरी को नालंदा में भीड़ का खौफनाक चेहरा दिखा, जहां नाबालिग समेत दो लोगों को पीट पीटकर मार डाला। 72 घंटे के भीतर तीन लोगों की हत्या से जहां नालंदा के दो गांव में तनाव का माहौल है। वहीं, बुजुर्ग  की हत्या बाद से पूरा अररिया जिला पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है।

अररिया जिले के सिकटी थाना छेत्र के सिमरबनी गांव में पशु चोरी के शक में करीब 300 लोगों की भीड़ ने पास के ही गांव रानिकटता निवासी एक 55 साल के बुजुर्ग काबुल की पीट-पीट कर हत्या कर दी। इसी मामले में एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है जिसमें बुजुर्ग अपनी जान की भीख मांग रहा है। वहीं, ग्रामीण इस शख्स को किसी भी कीमत पर छोड़ने के मूड में नहीं है।

भीड़ उसे तब तक मारती रही, जब तक उसकी जान नहीं चली गई। वीडियो वायरल होने के बाद से गांव में तनाव का माहौल है और लोग आक्रोशित हैं। वीडियो में देखा जा सकता है कि भीड़ चोर-चोर कहकर बुजुर्ग के चेहरे पर डंडों से हमला कर रही है। इतना ही नहीं भीड़ ने बुजुर्ग की पैंट भी निकाल दी थी। खबर लिखे जाने तक पुलिस ने अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया है।

नालंदा में नाबालिग समेत दो लोगों को पीट पीटकर मार डाला

वहीं, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा के दीपनगर थाना क्षेत्र में बुधवार (2 जनवरी) को हिंसा भड़क उठी। स्थानीय राजद नेता की हत्या से गुस्साई भीड़ ने नाबालिग समेत दो लोगों को पीट पीटकर मार डाला और एक को बुरी तरह घायल कर दिया। सुबह राजद नेता व व्यवसायी इंदल पासवान का शव बरामद होने के बाद आक्रोशित लोगों ने तीन संदिग्धों की बुरी तरह पिटाई कर दी, जिनमें एक नाबालिग भी शामिल था। जिससे नाबालिग सहित दो लोगों की मौत हो गई, जबकि एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गया।

पुलिस ने बताया कि राजद के अनुसूचित जाति-जनजाति प्रकोष्ठ के पदाधिकारी इंदल पासवान पर अज्ञात हमलावरों ने घात लगाकर हमला किया और गोली मार दी। वह एक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद मंगलवार को जिले के दीप नगर पुलिस थाना क्षेत्र में मगंडा सराय गांव में स्थित अपने घर लौट रहे थे। सूत्रों ने पीटीआई को बताया कि जब वह रात तक घर नहीं लौटे तब उनके परिजनों ने स्थानीय थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई और तलाशी के दौरान नजदीक के खेतों से उनका गोलियों से छलनी शव पाया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here