दिल्ली: बीमा के पैसे के लिए व्यक्ति ने रची अपनी हत्या की साजिश, शव मिलने के 5 दिन बाद हुआ खुलासा

0

वित्तीय संकट का सामना कर रहे दिल्ली निवासी एक व्यक्ति ने अपनी हत्या की साजिश रची जिससे कि उसके परिवार को बीमा का पैसा मिल सके, लेकिन पुलिस ने व्यक्ति का शव मिलने के पांच दिन बाद घटना का पर्दाफाश कर दिया। व्यक्ति ने घटना को अंजाम देने के लिए एक नाबालिग लड़के को तैयार किया था।

दिल्ली
फोटो: अमर उजाला

पुलिस ने सोमवार को बताया कि गौरव बंसल नाम का यह व्यक्ति आईपी एक्सटेंशन के आर्यनगर में अपनी पत्नी और बच्चों के साथ रहता था। वह राशन की दुकान चलाता था और वित्तीय संकट का सामना कर रहा था। इस संबंध में पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि बंसल के बीमा की एकदम सटीक राशि का अभी पता नहीं चल पाया है, लेकिन यह 10 लाख रुपये से अधिक हो सकती है। उन्होंने कहा कि बंसल ने अपनी हत्या के लिए 60 हजार रुपये दिए जिसे चार आरोपियों ने आपस में बांट लिया।

समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस उपायुक्त (बाहरी) ए. कोअन ने बताया कि 10 जून को बंसल का शव बाहरी दिल्ली के नजफगढ़ इलाके में खेड़ी बाबा पुल के पास एक पेड़ से लटका मिला। उसके हाथ बंधे हुए थे। उन्होंने ने बताया कि पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज करने के बाद जांच शुरू कर दी।

पुलिस ने बताया कि जांच के क्रम में 18 वर्षीय सूरज नाम के लड़के को गिरफ्तार किया गया जिसने अपना गुनाह स्वीकार कर लिया। उसने घटना में मनोज कुमार यादव (21) और सुमित (26) के शामिल होने की भी जानकारी दी। उत्तम नगर के मोहन गार्डन निवासी इन तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। सूरज ने पुलिस को बताया कि बंसल के संपर्क में रहे एक नाबालिग लड़के ने उससे इस घटना को अंजाम देने में मदद मांगी थी।

पुलिस उपायुक्त ने बताया कि नाबालिग लड़के ने खुलासा किया कि बंसल ने घटना को अंजाम देने के लिए उसे तैयार किया था। पुलिस अधिकारी ने बताया कि बंसल ने आरोपियों से कहा था कि यदि वे उसे मार देते हैं तो उसके परिवार को बीमा की राशि मिल जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here