डिलिवरी बॉय निकला मुस्लिम तो हिंदू ग्राहक ने रद्द किया खाने का ऑर्डर, जोमैटो के जवाब ने जीता लोगों का दिल

1

ऑनलाइन आर्डर और फूड डिलीवरी करने वाली मशहूर कंपनी जोमैटो ने धार्मिक आधार पर नफरत फैलाने वाले एक शख्स को करारा जवाब दिया है, जिसकी सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ हो रही है। दरअसल, मंगलवार रात को अमित शुक्ला नाम के जोमैटो के ग्राहक ने ट्वीट करके जानकारी दी कि उसने अपने खाने का ऑर्डर इसलिए कैंसिल कर दिया, क्योंकि उसका डिलीवरी ब्वॉय हिंदू नहीं बल्कि मुस्लिम था। इसी ट्वीट पर जोमैटो द्वारा ग्राहक को दिया शानदार जवाब इंटरनेट पर तारीफें बटोर रही है।

जोमैटो
(HT File Photo)

ऑर्डर रद्द करने वाले अमित शुक्ला नाम के ग्राहक ने मंगलवार रात को लिखा, ”अभी जोमैटो पर एक ऑर्डर कैंसिल कर दिया। उन्होंने एक गैर हिंदू राइडर (डिलीवरी ब्वॉय) को खाने की डिलीवरी के लिए भेजा। इस पर उन्होंने राइडर बदलने से मना कर दिया और ऑर्डर कैंसिल करने और रिफंड के लिए मना कर दिया।”

इसके बाद एक अन्य ट्वीट में मध्य प्रदेश के जबलपुर में रहने वाले अमित शुक्ल की तरफ से कई स्क्रीनशॉट ट्विटर पर जारी किए गए और पूरे मामले को विस्तृत बताया गया। इसके बाद एक दूसरे ट्वीट में अमित शुक्ला ने जोमैटो के साथ हुए अपनी बातचीत के स्क्रीन शॉट भी शेयर किए। इसके साथ उन्होंने कहा कि वे इस मुद्दे को अपने वकीलों के सामने उठाएंगे।

शुक्ला ने ऑर्डर कैंसिल का जो स्क्रीनशॉट शेयर किया है, जिसमें उनके खाने का ऑर्डर फैयाज नाम के डिलिवरी बॉय ला रहे थे। उनकी जानकारी में दिया है कि वो जबलपुर के ही रहने वाले हैं, हिंदी और अंग्रेजी बोलना जानते हैं और हायर एजुकेशन की पढ़ाई पूरी करना चाहते हैं।

जोमैटो की तरफ से समाज में नफरत फैलाने वाले इस शख्स को करारा जवाब दिया गया है। पहले ये जवाब जोमैटो ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से दिया और बाद में खुद जोमैटो के फाउंडर दीपेंद्र गोयल ने भी ट्वीट कर दिया है। शुक्ला को जवाब देते हुए जोमैटो ने लिखा, “खाने का कोई धर्म नहीं होता है। खाना खुद एक धर्म है।”

जोमैटो की ओर से इस करारा जवाब के बाद कंपनी का फाउंजर दीपिंदर गोयल ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘हमें भारत के विचार पर गर्व है। और हमारे सम्मानित ग्राहकों और भागीदारों की विविधता। हमें अपने मूल्यों के रास्ते में आने वाले किसी भी व्यवसाय को खोने का अफसोस नहीं है।’ इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर लोग जोमैटो की खूब तारीफ कर रहे हैं।

जोमैटो और उसके फाउंडर की तरफ से जिस तरह इस मामले में जवाब दिया गया है, उससे कंपनी ने सोशल मीडिया पर लोगों का दिल जीत लिया है। साथ ही लोगों ने पंडित अमित शुक्ल जिन्होंने इस ट्वीट के जरिए समाज में नफरत फैलाने की नाकाम कोशिश की उनको जमकर खरी-खोटी सुना रहे हैं। सोशल मीडिया पर उन्हें बुरी तरह से ट्रोल किया जाने लगा है और समाज में नफरत फैलाने वाला करार दिया गया।

1 COMMENT

  1. GOYALJI,HATS OFF TO YOU.YOU NEED JUST LITTLE COURAGE,TO SET THINGS RIGHT.I WAS WONDERING ID SHUKLA WAS STAUNCH ABOUT HIS STAND,WHAT HE MUST FILLING HIS BIKE WITH?MAY BE GAUMUTRA.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here