जुनैद हत्याकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार, पिता ने की फांसी की मांग

0
>

पुलिस को जुनैद खान हत्याकांड मामले में शनिवार(8 जुलाई) को बड़ी सफलता हाथ लगी है। हरियाणा रेल पुलिस ने शनिवार को इस मामले के मुख्य आरोपी को महाराष्ट्र के धुले से गिरफ्तार किया है। आरोपी को आज(9 जुलाई) कोर्ट में पेश किया, जहां से कोर्ट ने उसे दो दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया। मामले की अगली सुनवाई 11 जुलाई को होगी। वहीं जुनैद के पिता ने आरोपी को मौत की सजा देने की मां की है। बता दें कि बीते 22 जून को 16 साल के जुनैद की गाजियाबाद से मथुरा जा रही ईएमयू ट्रेन में चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी।

Express Photo

रिपोर्ट के मुताबिक, ऊंचा गांव अपराध जांच शाखा को तीन दिन पहले सूचना मिली थी कि आरोपी महाराष्ट्र के शाकरी गांव में रह रहा है। राजकीय रेलवे पुलिस के डीएसपी के साथ गई टीम ने उसे दबोच लिया। आरोपी हथीन के डामरौला गांव का निवासी है। पुलिस का कहना है कि आरोपी ने अपना जुर्म कबूल लिया है।

Also Read:  गुजरात: BJP के पूर्व मेयर ने पार्टी के व्हाट्सएप ग्रुप में शेयर की अश्लील तस्वीरें, शर्मिंदगी के चलते महिला कार्यकर्ताओं ने छोड़ा ग्रुप

जीआरपी के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि जुनैद खान हत्याकांड मामले में मुख्य आरोपी को महाराष्ट्र के धुले से गिरफ्तार किया गया है।’ अधिकारी ने कहा कि शुरुआती पूछताछ के दौरान आरोपी ने ट्रेन में जुनैद और उसके दोस्तों को चाकू मारने की बात कबूल कर ली। उन्होंने कहा कि कानूनी औपचारिकताएं पूरी होने के बाद उसकी पहचान जाहिर की जाएगी।

क्या है पूरा मामला?

गौरतलब है कि गांव खंदावली निवासी 16 वर्षीय जुनैद की 22 जून को ईएमयू रेल में सीट को लेकर हुए विवाद में कुछ लोगों ने चाकू मारकर हत्या कर दी थी। इस घटना में जुनैद के दो भाई भी गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे। इस मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी के लिए बकायदा इनाम की भी घोषणा की थी।

Also Read:  UP विधानसभा चुनाव: दूसरे चरण की 67 सीटों पर 4 बजे तक करीब 60 फीसदी हुआ मतदान

रिपोर्ट के मुताबिक, जुनैद खान और उसके चचेरे भाई, हाशिम मोइन और शाकिर मोइन 22 जून की रात दिल्ली से ईद की खरीदारी कर गाजियाबाद से मथुरा जाने वाली ट्रेन से घर लौट रहे थे। इसी दौरान रास्ते में ओखला स्टेशन पर आरोपी दर्जन भर अन्य लोगों के साथ ट्रेन में सवार हुए और जुनैद तथा उसके भाइयों के साथ सीट को लेकर धक्का-मुक्की करने लगे।

हाशिम ने कहा कि, आरोपियों ने इसी दौरान जुनैद को जोर से धक्का दिया, जिसका मैंने विरोध किया तो हमारे साथ भी बदसलूकी करने लगे। कोई हम पर जातिगत टिप्पणी कर रहा था तो कोई बीफ खाने वाला बता रहा था। धीरे-धीरे यह विवाद इतना बढ़ गया कि आरोपियों ने तीनों के साथ बर्बरतापूर्वक मारपीट की और धारदार हथियार से भी हमले किए और पलवल जिले में असौती स्टेशन पर उन्हें ट्रेन से बाहर फेंक दिया।

Also Read:  दिल्ली: जंतर-मंतर से किसानों और PM मोदी के भाई ने मांगा न्याय

PM मोदी ने तोड़ी चुप्पी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जुनैद हत्यकांड और भीड़ द्वारा धर्म के नाम पर हो रही हिंसा को लेकर 22 जून को चुप्पी तोड़ते हुए बड़ा बयान दिया। पीएम मोदी ने कहा कि मैं देश के वर्तमान माहौल की ओर अपनी पीड़ा व्यक्त करना चाहता हूं और अपनी नाराजगी भी व्यक्त करता हूं। गाय पर बोलते हुए पीएम मोदी भावुक हो गए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि गोरक्षा के नाम पर लोगों की हत्या स्वीकार नहीं है। उनकी टिप्पणी कथित गोरक्षकों द्वारा किए गए हालिया हमलों और विरोध प्रदर्शनों की पृष्ठभूमि में आई है। महात्मा गांधी के गुरू श्रीमद राजचंद्रजी की 150वीं जयंती के मौके पर मोदी ने गुजरात के साबरमती आश्रम में संबोधन के दौरान यह बात कही।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here