ममता बनर्जी ने ईवीएम पर सवाल उठाए, विपक्षी दलों से की यह अपील

0

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की प्रमुख ममता बनर्जी ने हाल ही में संपन्न लोकसभा चुनाव में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के इस्तेमाल को लेकर सोमवार को सवाल उठाए और विपक्षी दलों से अपील करते हुये कहा कि वे मतपत्रों के जरिए चुनाव करवाने की मांग संयुक्त रूप से करें। बनर्जी ने कहा कि एक तथ्य खोजी समिति बननी चाहिये ताकि वह ईवीएम का ब्यौरा तैयार कर सके।

ममता बनर्जी
फाइल फोटो: ममता बनर्जी

 

उन्होंने पार्टी के विधायकों और राज्य के मंत्रियों से चुनावों में तृणमूल कांग्रेस की पराजय को लेकर हुई बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘हमें लोकतंत्र बचाना है। हम मशीन नहीं चाहते, हमारी मांग है कि कागज के मतपत्र वाले युग की वापसी हो। हम एक आंदोलन प्रारंभ करेंगे और यह बंगाल से शुरू होगा।’ साथ ही उन्होंने कहा कि, ‘मैं सभी विपक्षी 23 राजनीतिक दलों से कहूंगी कि वे साथ आए और बैलैट पेपर की वापसी की मांग करें। अमेरिका जैसे देश में भी ईवीएम पर प्रतिबंध लगा हुआ है।’

तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने आरोप लगाया कि भाजपा ने चुनाव जीतने के लिए धन, बाहुबल, संस्थाओं, मीडिया और सरकार का इस्तेमाल किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा, 42 लोकसभा सीटों वाले इस राज्य में वाम मोर्चे के कारण 18 सीटें जीतने में सफल रही है। ममता बनर्जी ने कहा कि, ‘‘भाजपा का दावा था कि वे 23 सीटें जीतेंगे पर वे 18 ही जीत सके.. और वह भी वामदलों की वजह से। लेकिन हम (तृकां) अपना वोट शेयर चार फीसदी बढ़ाने में सफल रहे।

बता दे कि ममता बनर्जी पहली नेता नहीं हैं जिन्होंने इस लोकसभा चुनाव में ईवीएम के इस्तेमाल पर सवाल खड़े किए हैं। इससे पहले कई विपक्षी दल के नेता ईवीएम को लेकर सवाल उठा चुके है। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here